कंगना ने कहा मेरा वचन है एक क्षत्रिय का वचन

मुम्बई (TBN – The Bihar News डेस्क)| बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के मृत्यु के लगभग एक महीने बाद अभिनेत्री कंगना रनौत ने कहा था कि यदि वह सुशांत की मृत्यु के बारे में अपने दावों को साबित करने में सफल नहीं रहती हैं तो वह अपना पद्मश्री पुरस्कार लौटा देंगी.

कंगना को याद दिलाया जा रहा वादा

अब AIIMS फोरेंसिक विभाग सुशांत मामले में हत्या की बात नकार कर आत्महत्या बता रही है ऐसे में कुछ लोग कंगना को उनके पुरस्कार लौटाने के वादे की याद दिला रहे हैं।

कंगना ने लगाया था पत्रकारों को फटकार

बिना नाम लिए मशहूर हस्तियों के बारे में लिखने के लिए भी कंगना रनौत ने पत्रकारों को फटकारा था। रनौत ने सवाल किया था कि क्या सुशांत की मौत एक “आत्महत्या थी या एक सुनियोजित हत्या” थी? उन्होंने कहा कि यदि वह अपने द्वारा किए गए दावों को साबित नहीं कर पाती हैं, तो वह भारत सरकार द्वारा दिया गया सम्मान लौटा देंगी.

विस्तृत जांच की एक श्रृंखला के बाद एम्स की फोरेंसिक रिपोर्ट ने अभिनेता की मौत के मामले में हत्या के एंगल को खारिज कर दिया है। रिपोर्ट में इसे विभाग के “निर्णायक औषधीय-कानूनी” मत को सीबीआई को आत्महत्या का मामला बताया, जिसके अनुसार CBI आत्महत्या रेखा के उन्मूलन पर जांच जारी रख सकती है.

कंगना को वादा याद दिलाने पर कंगना ने दिया ये जवाब

कंगना रनौत ने ट्वीट कर जवाब में कहा कि अगर यादाश्त कमज़ोर है तो मेरा दिया इंटरव्यू फिर से देखें. मैने अगर एक भी झूठा या गलत आरोप लगाया हो तो मैं अपने सारे अवार्ड्स वापस कर दूंगी, यह एक क्षत्रिय का वचन है. मैं राम भक्त हूँ, प्राण जाए पर वचन न जाये.

अनुराग