महिला दिवस पर होली मिलन; ‘तनावरहित जीवन जीने की कला’ भी सीखी

 

पटना (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट)- विश्व भर में 8 मार्च को अंतराराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है. भारत के लगभग सभी राज्यों में आज महिलाओं के सशक्तिकरण, सुरक्षा और सम्मान को दर्शाते हुए विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम भी आयोजित किए गए. इसी क्रम में बिहार के पटना में भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण की पटना शाखा “कल्याणमयी” द्वारा विभिन्न कार्यक्रमों के साथ साथ होली मिलन का भी आयोजन किया गया. अंतराराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए.

भारतीय विमानपत्तन की संस्था “कल्याणमयी” की पटना एयरपोर्ट शाखा की अध्यक्षा श्रीमती रंजना नेगी ने कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए  “तनावरहित जीवन जीने की कला” के बारे में महिलाओं को जानकारी देने के लिए सामाजिक कार्यकर्ता श्रीमती मधु सिंह को आमंत्रित किया.  श्रीमती सिंह ने महिला जीवन के कई आयामों के बारे में लाभप्रद जानकारियाँ देते हुए बताया कि किस प्रकार तनावरहित जीवन जीने से कई बीमारियों से छुटकारा पाया जा सकता है और महिला जीवनशैली को सुचारु रूप से विकसित करने के तरीकों के बारे में भी बताया.

अंतराराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण की महिला अधिकारी, कर्मचारी और कल्याणमयी के अन्य सदस्यों के साथ साथ एयरपोर्ट पर कार्यरत कॉंट्रैक्ट महिला स्टाफ़ भी उपस्थित थे. श्रीमती नेगी ने महिला सशक्तिकरण पर चर्चा करते हुए कहा कि “आज की बदली हुई परिस्थिति में महिलाओं को किसी भी कार्य में पिछले हटने की ज़रूरत नहीं है. महिलायें किसी से कम नहीं हैं. उड्डयन क्षेत्र में भी बहुत महिलायें कार्यरत हैं जो अपने कार्यों को कुशलतापूर्वक अंजाम दे रही हैं. पटना एयरपोर्ट पर भी विभिन्न विभागों में महिला अधिकारी और कर्मचारी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहीं हैं. एयर ट्रैफिक कंट्रोल में उच्च प्रशिक्षण प्राप्त महिला अधिकारी वायुयानों के संचालन/नियंत्रण में अग्रणी भूमिका निभा रहीं हैं. अंतराराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर  पर ATC  टावर की कमान श्रीमती चंचला कुमारी और उनकी साथी महिला ATC अधिकारियों ने सम्भालीं. वहीं CNS/टेक्निकल अनुभाग की कमान भी महिला अधिकारियों ने सम्भालीं”.

श्रीमती नेगी ने “कल्याणमयी” द्वारा महिलाओं के उत्थान और कल्याण के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रमों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि  “विभिन्न सरकारी स्कूलों में सैनिटेरी पैड वेण्डिंग मशीनो का आधिस्थापन वर्ष 2018 में किया गया था, वह अनवरत कार्यरत है. साथ ही पटना शहर के सुदूर मोहल्लों में जहाँ गरीब महिलायें एवं लड़कियाँ हैं, वहाँ केम्प चला कर स्वच्छता को अपनाकर नयी जीवन शैली विकसित करने के लिए जागरुक किया जाता  रहा है”.

ज्ञात हो “कल्याणमयी” भारतीय विमानपत्तन की एक ऐसी संस्था है जिसमे भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण में कार्यरत महिला अधिकारी, कर्मचारी, और अधिकारियों/कर्मचारियों की पत्नी सदस्य होती हैं. भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण का अहम हिस्सा ‘कल्याणमयी संस्था’ संस्कार और सरोकार का संगम बनकर उभरी है. कल्याणमयी के अहम योगदान की वजह से ही प्राधिकरण देश का पहला ऐसा संस्थान बना है, जो वाकई लोगों का दिल जीतने में कामयाब हुआ है.

 

Advertisements