Breakingमनोरंजन

पूनम पांडे की फर्जी मौत: नाटक और प्रचार के लिए ‘गिरफ्तार’ करने की उठी मांग

मुंबई (TBN – The Bihar Now डेस्क)| मॉडल, एक्टर और टीवी की रियलिटी शो स्टार पूनम पांडे, जिनके बारे में दावा किया गया था कि उनकी मृत्यु सर्वाइकल कैंसर के कारण हो गई है, जीवित हैं. सर्वाइकल कैंसर के कारण उनकी मौत की खबरों के बाद शनिवार को इंस्टाग्राम पर पोस्ट किए गए वीडियो की एक श्रृंखला में उन्होंने अपने प्रशंसकों और फॉलोअर्स से माफी मांगी. वीडियो में पूनम पांडे ने बताया कि उनकी मौत की झूठी खबर के पीछे का उद्देश्य सर्वाइकल कैंसर के बारे में जागरूकता बढ़ाना था.

उन्होंने लिखा, “मैं आप सभी के साथ कुछ महत्वपूर्ण बातें साझा करने के लिए बाध्य महसूस कर रही हूं – मैं यहां जीवित हूं. सर्वाइकल कैंसर ने मुझे नहीं मारा, लेकिन दुखद है कि इस बीमारी ने हजारों महिलाओं की जान ले ली है जिन्हें इस बीमारी से निपटने के बारे में जानकारी की कमी थी.”

पूनम ने आगे लिखा, “कुछ अन्य कैंसरों के विपरीत, सर्वाइकल कैंसर को पूरी तरह से रोका जा सकता है. मुख्य बात एचपीवी वैक्सीन और शीघ्र पता लगाने वाले परीक्षणों में निहित है. हमारे पास यह सुनिश्चित करने के साधन हैं कि कोई भी इस बीमारी से अपनी जान न गंवाए. आइए महत्वपूर्ण जागरूकता के साथ एक-दूसरे को सशक्त बनाएं और सुनिश्चित करें कि इसमें उठाए जाने वाले कदमों के बारे में हर महिला को जानकारी हो.”

इधर, उनके इस स्टंट से लोगों में काफी गुस्सा है. पूनम पांडे के पोस्ट के कमेंट सेक्शन में लोगों ने पूनम की जमकर आलोचना की है. उनमें से कुछ लोग उनकी गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं. एक व्यक्ति ने लिखा, “अब तक का सबसे खराब प्रचार स्टंट!” जबकि एक अन्य ने लिखा, “मुझे खुशी है कि वह जीवित है लेकिन कृपया उसे इस नाटक और प्रचार स्टंट के लिए गिरफ्तार करें.”

कुछ ऐसे भी लोग हैं जिन्होंने कमेन्ट किया कि इस खतरनाक बीमारी के बारे में जागरूकता पैदा करने का यह कोई तरीका नहीं है. एक ने लिखा, “यह किसी चीज़ को बढ़ावा देने का सबसे हास्यास्पद तरीका था…” जबकि दूसरे ने लिखा, “अगली बार लोग आपको गंभीरता से नहीं लेंगे क्योंकि इसने आपकी पूरी विश्वसनीयता नष्ट कर दी” और एक अन्य ने लिखा, “मुझे यह पता था, लेकिन यह कुछ सिखाने का सही तरीका नहीं है”.