व्यापारियों को बड़ी राहत, माप-तौल अधिकारियों को सहयोग करने का निर्देश

पटना (TBN रिपोर्ट) | राज्य के कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने व्यापारियों को बड़ी राहत पहुंचाई है. आज उन्होंने माप – तौल अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिये माप – तौल उपकरणों और बाट – बटखरों के सत्यापन में आ रही समस्यायों जैसी बिंदुओं की समीक्षा की और अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए.

मंत्री ने अधिकारियों को साफ तौर पर हिदायत दी कि व्यापारियों को हर सम्भव नियमानुसार सहयोग प्रदान किया जाय. अधिकारी किसी भी व्यापारी को अनावश्यक परेशान नहीं करेंगे और शिकायत मिलेगी तो कठोर कार्रवाई की जाएगी.

उन्होंने बताया कि बाट – बटखरों एवं अन्य माप – तौल उपकरणों की सत्यापन अवधि को बढ़ाया गया है. यह विस्तार अगली तिमाही तक है.

कृषि मंत्री ने कहा कि जिन माप – तौल उपकरणों की कानूनी मान्यता 31 मार्च 2020 तक थी, उनका वार्षिक/द्विवार्षिक/पंचवर्षीय पुनः सत्यापन अगले तीन महीने यानी 1 अप्रैल से 30 जून कराया जा सकेगा.

उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि सम्बन्धित माप – तौल उपकरणों जैसे पेट्रोल पंप, धर्म कांटा तथा अन्य उपकरणों का इस्तेमाल करनेवालों के खिलाफ सत्यापन के नाम पर इस दौरान किसी तरह की कानूनी कार्रवाई नही की जाएगी. यह व्यवस्था सिर्फ 1 जनवरी 2020 से 31 मार्च 2020 तक ही थी.

कृषि मंत्री ने कहा कि कृषि विभाग द्वारा कोरोना संक्रमण के विस्तार को रोकने के लिए विधिक माप विज्ञान अधिनियम 2009 की धारा 14(4) में प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए सभी निरीक्षकों एवं विधिक माप विज्ञान को इस बारे में निर्देशित किया गया है.

उन्होंने कहा कि व्यापारी संगठनों के साथ वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिये उनकी हुई बातचीत में उनके दिए गए सुझावों पर सरकार विचार कर रही है. उन्होंने शीघ्र ही समुचित निर्णय लिए जाने का आश्वासन दिया.