18 महीने के D.El.Ed. कोर्स की मान्यता से शिक्षकों में खुशी की लहर

पटना (TBN डेस्क) | NCTE द्वारा NIOS से 18 माह के D.El.Ed. की डिग्री को शिक्षक बहाली में मान्यता देने पर शिक्षकों में खुशी की लहर दौर गई है.

जैसा कि मालूम है, दो दिनों पहले ही राष्ट्रीय खुला विद्यालयी संस्थान ( NIOS) से खुला दूरस्थ शिक्षा (ODL) मोड से डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन (D.El.Ed.) की डिग्री को राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (NCTE) ने मंजूरी दे दी है.

NCTE ने इस फैसले से जिले के हजारों शिक्षकों को लाभ मिलेगा. अब इस डिग्री के धारकों को शिक्षकों की बहाली में शामिल होने का मौका मिलेगा जिससे शिक्षकों में काफी हर्ष है. हालांकि शिक्षकों की बहाली में शामिल होने के लिए डीएलएलएड की डिग्री के साथ साथ टीईटी उत्तीर्ण होना भी अनिवार्य होगा.

टीईटी एसटीईटी उत्तीर्ण नियोजित शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष मार्कण्डेय पाठक एवं प्रदेश प्रवक्ता अश्विनी पाण्डेय ने केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को इस फैसले के लिए धन्यवाद दिया है.

उन्होंने बताया कि एनआईओएस से ओडीएल मोड से हाल ही में लाखों अप्रशिक्षित शिक्षकों ने डीएलएड की डिग्री हासिल किया था. परन्तु बिहार सरकार ने शिक्षक बहाली में उपर्युक्त डिग्री धारकों को शामिल होने पर रोक लगा दी थी.

बिहार सरकार का यह मानना था कि चूंकि डीएलएड शिक्षक प्रशिक्षण की डिग्री द्विवर्षीय होता है और यह कोर्स निजी एवं सरकारी विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों के लिए ही विशेष परिस्थिति में शिक्षा के अधिकार अधिनियम के तहत 21 मार्च 2019 तक मात्र 18 महिनों में पूरा किया गया था. इसलिए सरकार ने इसको मान्यता देने से इनकार कार दिया था.

बिहार सरकार के निर्णय के खिलाफ डीएलएड अभ्यर्थियों ने पटना उच्च न्यायालय की शरण ली जहां फैसला शिक्षकों के पक्ष में आया था. बिहार सरकार ने पुनः अपील में जाने की बात कही थी और एनसीटीई से भी मार्गदर्शन मांगा. समयावधि बीत जाने के बाद भी सरकार अपील में नहीं गई.

इसी बीच केन्द्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने पटना उच्च न्यायालय के फैसले को सही ठहराया और डीएलइडी की डिग्री को मंजूरी दे दी. इस बाबत एनसीटीई के उप सचिव ने शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव आर के महाजन को चिट्ठी लिखकर पटना हाईकोर्ट के फैसले को लागू करने का निर्देश भी दिया है.

एनसीटीई के उप सचिव द्वारा शिक्षा विभाग, बिहार के प्रधान सचिव को पत्र लिखे जाने के बाद अब शिक्षक भर्ती में डीएलएड से 18 महीने का कोर्स करने वालों को शामिल होने के मौका मिलने से शिक्षकों में हर्ष व्याप्त है.

हर्ष व्यक्त करने वालों में टीईटी एसटीईटी उत्तीर्ण नियोजित शिक्षक संघ के प्रदेश सचिव शाकिर इमाम, अमित कुमार, नाजिर हुसैन, प्रदेश कोषाध्यक्ष संजीत पटेल, प्रदेश मीडिया प्रभारी राहुल विकास, राज्य कार्यकारिणी सदस्य मुकेश राज, पटना जिला संयोजक चंदन पटेल आदि शामिल हैं.