6 प्रकार के होते हैं कोविड-19 वायरस

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | क्या आपको मालूम है कि कोविड-19 वायरस 6 प्रकार के होती हैं. जी हां, कोविड-19 वायरस के छह अलग अलग प्रकार होते हैं जिसका दावा वैज्ञानिकों द्वारा किया गया है. आइए जानते हैं ये छह प्रकार कैसे होते हैं.

वैज्ञानिकों के दावों के मुताबिक सिर दर्द और गंध महसूस करने की शक्ति में कमी का लक्षण कोविड-19 वायरस के सभी प्रकारों में समान होते हैं. इस वायरस के दो सबसे कम खतरनाक प्रकारों मे फ्लू जैसे लक्षण सामने आते हैं और जरूरी नहीं कि बुखार हो ही. तीसरे प्रकार के कोविड-19 वायरस में डायरिया के लक्षण हो सकते हैं.

वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि चौथे, पांचवें व छठे प्रकार के संक्रमण से थकावट, चक्कर, सांस लेने में दिक्कत हो सकती है. सेहत से जुड़ी वेबसाइट मेडआरजिव पर छपे शोध के मुताबिक, वैज्ञानिकों ने वायरस से जूझ रहे 1600 मामलों का विश्लेषण किया.

छठे वायरस की चपेट में आए मरीज में सांस लेने की समस्या कई गुना अधिक हो सकती है. पहले प्रकार के वायरस से संक्रमित 1.5% मरीज, दूसरे प्रकार के मामलों में 4.4% मरीज और तीसरे प्रकार के मामलों में सिर्फ 3.3% मरीजों को सांस लेने में सहायता दिए जाने की जरूरत होती है.

वहीं चौथे, पांचवे और छठे प्रकार के केस में ये आंकड़े 8.6%, 9.9% व 19.8% पाए गए हैं. शोध के सह-लेखक क्लेयर स्टीव्स ने कहा, संक्रमण की चपेट में आने के पांचवें दिन यदि यह पता लगा लिया जाए कि वायरस किस कैटेगरी का है, तो समय रहते मरीज को सही इलाज दिया जा सकता है.

न्यूज स्रोत – Amar Ujala

कोरोना वायरस की सामान्य जानकारी

कोविड-19 वायरस, अलग-अलग लोगों को अलग-अलग तरह से प्रभावित करता है. संक्रमित हुए ज़्यादातर लोगों को थोड़े से लेकर मध्यम लक्षण तक की बीमारी होती है और वे अस्पताल में भर्ती हुए बिना ठीक हो जाते हैं.

ज़्यादा सामान्य लक्षण:

बुखार
सूखी खांसी
थकान

कम सामान्य लक्षण:

खुजली और दर्द
गले में खराश
दस्त
आँख आना
सिरदर्द
स्वाद या गंध का अनुभव नहीं होना
त्वचा पर खरोंच या उंगलियों या पैर की उंगलियों का रंग बिगड़ना