“आजादी का अमृत महोत्सव” पर शौर्य चक्र विजेता राम श्रेष्ठ तिवारी हुए सम्मानित

मधुबनी (TBN – The Bihar Now डेस्क)| शौर्यचक्र से सम्मानित राम श्रेष्ठ तिवारी (Ram Shreshth Tiwari) को एनसीसी निदेशालय बिहार-झारखण्ड के तत्वाधान में 34 बिहार बटालियन एनसीसी मधुबनी (NCC Madhubani), ग्रुप मुख्यालय मुजफ्फरपुर ने सम्मानित किया है. मधुबनी जिले के राम कृष्णा महाविधालय परिसर में इस सम्मान समारोह का आयोजन हुआ.

राष्ट्र की आजादी के 75 साल का उत्सव, “आजादी के अमृत महोत्सव” के अवसर पर यह सम्मान समारोह कार्यक्रम आयोजित किया गया. रक्षा मंत्रालय के निर्देश पर देश के 75 जिलों में युद्ध और शांति दोनों काल में वीरता पदक प्राप्त योद्धाओं के सम्मान में इसका आयोजन 6 अगस्त से 14 अगस्त तक किया जा रहा है.

Also Read | एक जज की मौत झारखंड राज्य की विफलता है – सुप्रीम कोर्ट

इस सम्मान समारोह में ब्रिगेडियर राजेश नेगी, ग्रुप कमांडर, एनसीसी ग्रुप मुख्यालय, मुजफ्फरपुर ने तिवारी को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया.

कौन हैं राम श्रेष्ठ तिवारी

राम श्रेष्ठ तिवारी मधुबनी जिला के हरलाकी तहसील स्थित बारकर गांव के निवासी हैं. राम श्रेष्ठ तिवारी ने सन 1966 से 1986 तक GREF में अपनी सेवाएं दी थी. उन्हें 1974 में शौर्यचक्र (Shaurya Chakra) से सम्मानित किया गया था. तिवारी ने अपने प्राणों की परवाह किये बिना बर्फ में फंसे 150 नागरिकों को सुरक्षित निकाला था.

अपने सम्मान समारोह के अवसर पर राम श्रेष्ठ तिवारी ने अपने अनुभवों को कैडेट के साथ साझा किया. इस कार्यक्रम का गैलेंट्री अवार्ड पोर्टल पर सीधा प्रसारण भी किया गया, जिसे लाखों कैडेटों ने देखा.

इस समारोह में कर्नल राम निवास, सामादेशी पदाधिकारी 34 बिहार बटालियन, एनसीसी मधुबनी, प्राचार्य राम कृष्णा महाविद्यालय मधुबनी तथा अन्य गणमान्य नागरिकों, भूतपूर्व सैनिकों तथा एनसीसी कैडेटों ने हिस्सा लिया. इसका संचालन ले. राहुल मनहर ने किया.