कोरोनोवायरस के खिलाफ भारत की लड़ाई के समर्थन में रिलायंस ने बढ़ाया सहयोग

मुंबई (TBN रिपोर्ट) | रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में राष्ट्र की सेवा में अपनी ड्यूटी 24X7 देने का संकल्प लिया है। RIL ने पहले से ही एक बहु-आयामी और बहुस्तरीय रोकथाम, प्रभाव को न्यूनतम करने और जारी समर्थन रणनीति शुरू कर दी है जो कि व्यापक, सक्षम और सुविधाजनक है. यह दृष्टिकोण राष्ट्र के लिए जरूरी सेवाओं को आगे बढ़ाने में व्यापक स्तर पर सहायक साबित हो सकती है.
इस एक्शन प्लान को अमल में लाने के लिए रिलायंस फाउंडेशन, रिलायंस रिटेल, जियो, रिलायंस लाइफ साइंसिज, रिलायंस इंडस्ट्रीज ओर रिलायंस परिवार के सभी 6,00,000 सदस्यों की संयुक्त ताकत को अमल में लाना शुरू कर दिया है. RIL की कार्य योजनाओं में निम्नलिखित शामिल हैं:
भारत का पहला समर्पित कोविड-19 अस्पताल (सर एच.एन. रिलायंस फाउंडेशन) – सिर्फ दो सप्ताह के थोड़े समय में, सर एचएन रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल ने बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के सहयोग से, सेवन हिल्स हॉस्पिटल, मुंबई में एक समर्पित 100 बिस्तर का सेंटर स्थापित किया है. ये सेंटर मुंबई के उन मरीजों के लिए है जो कि कोविड-19 के लिए हुए टेस्ट में पॉजिटिव आए हैं. यह भारत में अपनी तरह का पहला सेंटर है, जो कि पूरी तरह से रिलायंस फाउंडेशन द्वारा फंडेंड है और इसमें एक निगेटिव प्रेशर रूम शामिल है जो क्रॉस कंटेमीनेशन को रोकने में मदद करता है और संक्रमण को नियंत्रित करने में मदद करता है. सभी बेड आवश्यक बुनियादी ढांचे, बायो मेडिकल उपकरण जैसे वेंटिलेटर, पेसमेकर, डायलिसिस मशीन और रोगी निगरानी उपकरणों से सुसज्जित हैं.
मुंबई में एक विश्वस्तरीय स्वास्थ्य सेवा संस्थान, सर एच.एन. रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल ने भी अधिसूचित देशों के यात्रियों और संपर्क ट्रेसिंग के माध्यम से पहचाने गए संदिग्ध मामलों के लिए विशेष चिकित्सा सुविधाएं स्थापित करने की पेशकश की है. यह संक्रमित रोगियों को अगल थलग करने और उपचार के लिए अतिरिक्त सुविधाओं को जल्दी से बढ़ाएगा.
विभिन्न शहरों में मुफ्त भोजन – रिलायंस फाउंडेशन मौजूदा संकट की स्थिति में गैर सरकारी संगठनों के साथ सहभागिता में विभिन्न शहरों में लोगों को मुफ्त भोजन प्रदान करेगा.
लोधीवली में आइसोलेशन की सुविधा – RIL ने लोधीवली, महाराष्ट्र में पूरी तरह से सुसज्जित आइसोलेशन सुविधा का निर्माण कर इसे जिला अधिकारियों को सौंप दिया है.
रिलायंस लाइफ साइंसेज प्रभावी टेस्टिंग के लिए अतिरिक्त टेस्ट किट्स और उपभोग्य सामग्रियों का आयात कर रही है तथा डॉक्टर और शोधकर्ता भी इस घातक वायरस का इलाज खोजने के लिए ओवरटाइम काम कर रहे हैं.
स्वास्थ्य कर्मियों के लिए मास्क और सुरक्षा सूट – RIL अपनी उत्पादन क्षमता को बढ़ाकर प्रति दिन 100,000 फेस-मास्क और बड़ी संख्या में व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (PPI), जैसे सिक्योरिटी सूट्स और गारमेंट्स का निर्माण कर रही है ताकि हेल्थ वर्कर्स को कोरोनोवायरस की चुनौती से लड़ने के लिए अच्छी तरह से सुसज्जित किया जा सके.
इसके अलावा RIL ने महाराष्ट्र मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 करोड़ रुपए का योगदान भी दिया है.