रिलायंस रिटेल ने क्विक कॉमर्स कंपनी डंज़ो में किया 20 करोड़ डॉलर का निवेश

नई दिल्ली (TBN – The Bihar Now डेस्क)| जाने माने उद्योगपति मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस रिटेल ने भारत की प्रमुख क्विक कॉमर्स कंपनी डंज़ो (Dunzo Deal of Reliance Retail) में 20 करोड़ डॉलर के निवेश की घोषणा की है. इस निवेश से रिटेल सेक्टर में रिलायंस रिटेल की पकड़ और मजबूत होने की उम्मीद है. रिलायंस रिटेल अब डंज़ो में 25.8% हिस्सेदारी की मालिक होगी. डंज़ो को कुल 24 करोड़ डॉलर का निवेश मिला है.

रिलायंस की तरफ से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, पूजीं से डंज़ो छोटे गोदामों का एक नेटवर्क तैयार करेगी जिससे वस्तुओं की तत्काल डिलीवरी हो सके. साथ ही कंपनी बी2बी बिजनेस के विस्तार पर भी फोकस करेगी. कंपनी की सेवाएं अभी 7 मैट्रो शहरों में उपलब्ध है जिसे जल्द ही 15 शहरों में विस्तारित किया जाएगा.

50 बिलियन अमेरिकी डॉलर वाले ‘क्विक कॉमर्स कैटेगरी’ बाजार में डंज़ो मार्केट लीडर है. हाल में कंपनी ने बैंग्लोर में अपनी सेवाएं शुरू की हैं. कंपनी का फोकस 15-20 मिनट में फल और सब्जियों की होम डिलीवरी पर है.

फंडिंग के अलावा डंज़ो और रिलायंस रिटेल आपस में कुछ व्यावसायिक साझेदारी भी करेंगी. डंज़ो रिलायंस रिटेल द्वारा संचालित रिटेल स्टोर्स के लिए हाइपरलोकल लॉजिस्टिक्स प्रदान करेगी साथ ही जियोमार्ट के मर्चेंट नेटवर्क के लिए लास्ट माइल डिलीवरी की सुविधा भी देगी.

निवेश पर बोलते हुए, रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड की निदेशक, ईशा अंबानी (Reliance Retail Venture Limited Director Isha Ambani) ने कहा, “हम ऑनलाइन उपभोग पैटर्न में बदलाव देख रहे हैं और डंज़ो ने इस सेक्टर में हमें काफी प्रभावित किया है.

तेज डिलीवरी से ग्राहकों को देंगे नया अनुभव

ईशा ने बताया कि डंज़ो के साथ साझेदारी से हम रिलायंस रिटेल के उपभोक्ताओं को अधिक सुविधाएं दे सकेंगे और रिलायंस रिटेल स्टोर्स से उत्पादों की तेज डिलीवरी से ग्राहकों को नया अनुभव दे सकेंगे. हमारे साथ जुड़े व्यापारियों को भी डंज़ो के हाइपरलोकल डिलीवरी नेटवर्क से मदद मिलेगी.”

डंज़ो के सीईओ और सह-संस्थापक कबीर विश्वास ने कहा, “हमारी स्थापना के बाद से ही हम एक बेजोड़ ग्राहक अनुभव प्रदान करने की कोशिश करते रहे हैं और यह फंडिंग राउंड हमारे दृष्टिकोण का एक शानदार सत्यापन है. रिलायंस रिटेल के इस निवेश के साथ हमारे पास एक दीर्घकालिक साझेदार होगा जिसके साथ हम तेजी से विकास कर सकेंगे.”

रिलायंस का नया पैतरा

बताते चलें, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (Reliance Industries Limited) की इकाई रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) ने किराना सामग्री से जुड़े ऑनलाइन बुकिंग/डिलीवरी बिजनेस में पैठ जमाने के लिए यह डील किया है. साथ ही, अमेजन-फ्यूचर विवाद (Amazon-Future Deal) के कारण रिटेल बिजनेस पर संकट में दिखते फ्यूचर के बीच रिलायंस रिटेल ने अमेजन के भारत में पैठ बनाने के सपने को चूर करने के लिए इस डील को आजमाया है.