राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार 2020 में नियोजित शिक्षकों को भी मिले मौका – शिक्षक संघ

पटना (TBN डेस्क) | मानव संसाधन विकास विभाग, भारत सरकार द्वारा शिक्षक दिवस के अवसर पर प्रतिवर्ष शिक्षकों को दिए जाने वाले शिक्षक राष्ट्रीय अवार्ड (NAT) -2020 के लिए नोटीफिकेशन जारी कर दिया गया है. इसके लिए विभागीय पोर्टल पर ऑनलाइन अप्लाई करना है.

इस प्रक्रिया में जिला चयन समिति और राज्य चयन समिति द्वारा चयनित करने के बाद अंतिम रूप से केन्द्रीय चयन समिति द्वारा मुहर लगाई जाती है. परन्तु इसके लिए केवल नियमित शिक्षक ही योग्य माने जाएंगे.

टीईटी एसटीईटी (TET STET) उत्तीर्ण नियोजित शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष मार्कण्डेय पाठक ने राष्ट्रीय अवार्ड के लिए नियोजित शिक्षकों को दरकिनार करने पर आक्रोश व्यक्त किया है. संघ के प्रदेश प्रवक्ता अश्विनी पाण्डेय ने कहा कि इस पुरस्कार के लिए प्रारंभिक, माध्यमिक और उच्च माध्यमिक के सरकारी नियमित शिक्षकों के अलावे सीबीएसई या सीआईएसई से मान्यता प्राप्त विद्यालयों, सरकारी अनुदान से संचालित विद्यालयों के शिक्षकों को अवसर दिया गया है.

राष्ट्रीय शिक्षक अवार्ड-2020 के लिए नियोजित शिक्षकों को दर किनार करना, सरकार की ओछी मानसिकता का परिचायक

उन्होंने कहा कि इसमें भाग लेने के लिए सिर्फ नियोजित शिक्षकों पर पाबंदी लगा दी गई है. जबकि राष्ट्रीय शिक्षा के अधिकार अधिनियम के सभी मापदंडों को पूरा करने वाले बहाल नियोजित शिक्षकों को इस राष्ट्रीय अवार्ड से विमुख करना शिक्षकों के अपमान करने के समान है.

संघ के प्रवक्ता अश्विनी पाण्डेय ने सरकार से मांग की है कि मानव संसाधन विकास मंत्रालय इस पर विचार करें तथा इसके अंतर्गत नियोजित शिक्षकों को भी शामिल करें ताकि नियोजित शिक्षक भी उत्साहित होकर अपनी प्रतिभा को राष्ट्रीय ही नहीं वरन् अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रर्दशित कर सके.

Advertisements