नौकरी दिलाने वाले जालसाजों से स्वयं भी बचें तथा औरों को भी बचायें – कृषि मंत्री

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| बिहार सरकार ने मंगलवार को एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए राज्य के बेरोजगार नवयुवकों एवं नवयुवतियों को नौकरी दिलाने वाले जालसाजों से बचने की अपील की है. यह अपील राज्य के कृषि मंत्री ने की है.

कृषि मंत्री अमरेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि कुछ फर्जी संस्थानों द्वारा बिहार के बेरोजगार नवयुवकों एवं नवयुवतियों को नौकरी दिलाने के नाम पर ऑनलाइन आवेदन करने हेतु सोशल मीडिया पर फर्जी वेबसाईट का नाम देते हुये विज्ञापन प्रसारित किया गया है.

उन्होंने कहा कि राज्य के विभिन्न इलेक्ट्रानिक एवं सोशल मीडिया के माध्यम से यह ज्ञात हुआ है कि राष्ट्रीय किसान सहायता केन्द्र नाम के संस्थान द्वारा विज्ञापन में अपने संस्थान के लोगो (Logo) के साथ-साथ भारत सरकार के सूक्ष्म, लघु एवं मघ्यम उद्यम मंत्रालय के लोगो (Logo) का भी उपयोग किया गया है. इस संस्थान द्वारा बिहार के सभी पंचायतों में पंचायत सहायता केन्द्र संचालित करने हेतु पंचायत किसान मित्र (सहायक) एवं प्रखण्ड किसान मित्र के लिए क्रमशः 12वीं एवं स्नातक उत्तीर्ण बेरोजगार नवयुवकों एवं नवयुवतियों से ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किया है, जो कि बिल्कुल फर्जी है.

यह भी पढ़ें| मैथिली के लिए जगदीश प्रसाद मंडल को साहित्य अकादमी पुरस्कार

मंत्री ने कृषि विभाग के पदाधिकारियों को निदेश दिया कि उक्त संस्थान के विरूद्ध आवश्यक कार्रवाई करते हुए उस पर प्राथमिकी दर्ज की जाये.

उन्होंने बिहार के बेरोजगार नवयुवकों एवं नवयुवतियों से अपील किया कि ऐसे जालसाज एवं फर्जी संस्थानों के झाँसे में न आयें, किसी भी नौकरी से संबंधित विज्ञापन के संबंध में बिहार सरकार के आधिकारिक वेबसाईट से संतुष्ट होकर ही आवेदन करें.