खुदाबख्श लाइब्रेरी भवन से कोई छेड़छाड़ नहीं – नीतीश

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| खुदाबख्श लाइब्रेरी के भवन से किसी प्रकार की कोई छेड़छाड़ नहीं होगी. यह बात शनिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कही. वे आज राजधानी के पहले डबल डेकर फ्लाइओवर का शिलान्यास कर रहे थे.

खुदाबख्श लाइब्रेरी के बारे में उन्होनें कहा कि हमलोगों को इससे काफी लगाव है. उन्होंने बताया कि खुदाबख्श लाइब्रेरी के भवन से किसी प्रकार की कोई छेड़छाड़ नहीं हो, इसके लिए निर्देश दे दिया गया है. अतः अब इसके काम में कोई बाधा नहीं होनी चाहिये.

उन्होंने कहा कि खुदाबख्श लाइब्रेरी में 2006 के बाद हम कई बार गये हैं. पहले कितने मुख्यमंत्री वहां गये थे? उन्होने कहा कि अटल वाजपेयी सरकार में जब वे केंद्र में मंत्री थे तो बख्तियारपुर 4 लेन सड़क का निर्माण कराया था. केन्द्र सरकार के सहयोग से बिहार में कई सड़कों, पुल-पुलियों का निर्माण कराया जा रहा है. राज्य सरकार भी अपनी तरफ से और सड़कों और पुल-पुलियों के निर्माण कार्य में लगी है.

नीतीश कुमार ने कहा कि हमलोगों का लक्ष्य है, राज्य के किसी कोने से भी पटना आने में 5 घंटे से ज्यादा का वक्त नहीं लगे. हमलोगों का लक्ष्य सिर्फ निर्माण कराना ही नहीं है बल्कि उसका मेंटेनेंस कराना भी है. सरकारी भवनों, सड़क एवं पुल-पुलियों का मेंटेनेंस विभाग के द्वारा ही कराये जाने के निर्देश दिये गये हैं. विभाग के द्वारा मेंटेनेंस होने से काम जल्दी होगा. साथ ही विभाग में और अतिरिक्त भर्ती होने से लोगों को रोजगार भी मिलेगा.

Also Read| डबल डेकर फ्लाईओवर का हुआ शिलान्यास, अशोक राजपथ की ट्रैफिक व्यवस्था होगी स्मूथ

उन्होनें कहा कि सड़क मार्ग से जब भी हम कहीं जाते हैं और अगर कहीं कोई गड़बड़ी दिखती है तो रास्ते से सीधे अधिकारियों को फोन कर निर्देश देते हैं. उन्होंने कहा कि जब हम अटल सरकार में रेल मंत्री थे तो देखा कि रेलवे में पुलों की देख-रेख को लेकर एक अलग विगं है. हमने निर्देश दिया है कि रेलवे की तरह ही बिहार में भी पुल-पुलियों की देखभाल करें.

मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों की सुविधाएं एवं राज्य के विकास के लिए हमलोग लगातार काम कर रहे हैं. सबको आवागमन में सहूलियत हो, पढ़ाई लिखाई में सुविधा हो, रोजगार के अवसर मिले, इसको लेकर हमारी सरकार संकल्पित है. बिहार तेजी से विकसित होगा तो देश की तरक्की में अपना योगदान और बेहतर तरीके से दे सकेगा.