किसानों की आमदनी बढ़ाने पर विशेष ध्यान देने की है आवश्यकता

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| सोमवार को बामेती (BAMETI) परिसर, पटना के सभागार में प्रखण्ड तकनीकी प्रबंधको एवं सहायक तकनीकी प्रबंधकों को एक दिवसीय क्षमता संवर्द्धन कार्यक्रम संपन्न किया गया. इसमें राज्य के किसानों की आमदनी बढ़ाने पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता पर बल दिया गया.

इस कार्यक्रम में राज्य के 13 जिलों से यथा पटना, भोजपुर, बक्सर, कैमूर, रोहतास, नालन्दा, गया, अरवल, औरंगाबाद, जहानाबाद, नवादा, भागलपुर एवं बांका से कुल 40 प्रशिक्षणार्थियों ने भाग लिया गया.

इस कार्यक्रम में शशि भूषण कुमार विद्यार्थी, उप निदेशक (प्रसार प्रबंधन), बामेती (Bihar Agriculture Management & Extension Training Institute), बिहार, पटना के द्वारा समन्वय किया गया. इनके द्वारा आत्मा योजना/कृषि विभाग के द्वारा संचालित सभी कार्यक्रमों को किसानों के बीच प्रचार-प्रसार किये जाने के लिये जानकारी प्रदान की गई.

साथ ही उन्होंने आत्मा योजना के माध्यम से फसल उत्पादन की समस्या, बाजार की कमी पर विशेष जानकारी उपलब्ध करायी. इस कार्यक्रम में निदेशक बामेती के द्वारा आत्मा योजना (ATMA YOJNA) अन्तर्गत सभी कैफेटेरिया ऑफ एक्टिविटि में आने वाले सभी कार्यक्रमों के बारे में जानकारी दी गई.

निदेशक ने कहा कि राज्य में किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिये मधुमक्खी पालन, मशरूम उत्पादन, बकरी पालन, बीज उत्पादन, मुर्गी पालन, स्ट्राबेरी की खेती, ड्रैगन फ्रुट की खेती एवं समेकित कृषि प्रणाली आदि विषयों पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है.

इस कार्य में गति दिये जाने के लिये विभिन्न जिलों से आये प्रखण्ड तकनीकी प्रबंधक एवं सहायक तकनीकी प्रबंधकों को विशेष रूप से बताया गया. उन्हें बताया गया कि संबंधित खेती करने वाले किसानो का सूची तैयार किया जाय ताकि आत्मा योजना अन्तर्गत कार्यक्रम के माध्यम से तकनीकी जानकारी प्रदान करने में मदद मिलेगी.

इस कार्यक्रम में श्रीमति रेशम, जन संचार, बिहार के द्वारा संचार कौशल की तकनीकी के बारे में जानकारी प्रदान दी गयी. मो0 इस्माईल, उप निदेशक (पौधा संरक्षण) मुख्यालय, बिहार, पटना के द्वारा आत्मा योजना अन्तर्गत कृषक हितार्थ समूह एवं महिलाओं के लिये खाद्य सुरक्षा समूह के गठन करने का उदेश्य, प्रक्रिया, बैंक लिंकेज एवं उत्पादन एवं उत्पादकता बढ़ाने के साथ-साथ मूल संवर्द्धन करने से संबंधित जानकारी दी गयी.

इस कार्यक्रम में उपस्थित डॉ0 प्रमोद कुमार मिश्र, स्टेट कोऑर्डिनेटर, आत्मा नोडल सेल, नरेन्द्र मोहन, उद्यान पदाधिकारी, प्रतिनियुक्त, बामेती, पटना आदि द्वारा किसानों को नई तकनीकी हस्तातरण करने की जानकारी दी गयी.