आजादी का अमृत महोत्सव के तहत लोन मेला का हुआ आयोजन

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| बुधवार 29 दिसंबर को पटना में एक लोन मेला (वित्तीय सहायता कार्यक्रम) का आयोजन किया गया. इस मेले का आयोजन सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विकास संस्थान (MSME Development Institute), भारत सरकार, पटना एवं इंडियन बैंक अंचल कार्यालय (Circle Office of Indian Bank) द्वारा संयुक्त रूप से किया गया. इस कार्यक्रम का उदघाटन बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (Bihar State Pollution Control Board) के अध्यक्ष डॉ एके घोष ने किया.

इस अवसर पर डॉ घोष ने भाग ले रहे उद्यमियों को संबोधित करते हुए कहा कि पर्यावरण की संरक्षा को ध्यान में रख कर विनिर्माण कार्यों को करने की जरुरत है. डॉ घोष ने बिहार में एकल इस्तेमाल वाले प्लास्टिक उत्पादों पर लगाये जा रहे प्रतिबंध की चर्चा करते हुए इसके विकल्प बायो-कम्पोस्टेबल प्लास्टिक के क्षेत्र में प्रस्तावित इकाइयों के उद्यमियों की सराहना की.

राज्य में साख जमा अनुपात की वर्तमान स्थिति चिंताजनक

वहीं इस मौके पर सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विकास संस्थान, पटना के निदेशक प्रदीप कुमार (आईईडीएस) ने कहा कि बिहार राज्य में साख जमा अनुपात की वर्तमान स्थिति चिंताजनक है. उन्होंने राज्य में एम.एस.एम.ई. उद्यमियों को वित्तीय सहायता की उपलब्धता में हो रही परेशानी का विशेष रूप से चर्चा की. कुमार ने वित्तीय संस्थानों से आवाहन किया कि राज्य में एम.एस.एम.ई उद्यमियों के वित्तीय आवेदनों को त्वरित गति से निबटारे से एक सकारात्मक माहौल के निर्माण में योगदान दें.

इस कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि बिहार उद्योग संघ, पटना के ट्रेजरर मनीष तिवारी ने राज्य में एम एस एम ई इकाइयों को दिन-प्रतिदिन आ रहे परेशानियों पर प्रकाश डाला. साथ ही उन्होंने इसमें राज्य एवं केंद्र सरकार के द्वारा नीतिगत सहयोग बढ़ाने कि आवश्यकता पर बल दिया.

यह भी पढ़ें| बाढ़: ओमिक्रोन के बढ़ते खतरों के बीच एक सुखद खबर, एनटीपीसी में शुरू हुआ ऑक्सीजन का उत्पादन

इस अवसर पर इंडियन बैंक कॉर्पोरेट कार्यालय के महाप्रबंधक (एमएसएमई) सुधाकर राव केएस एवं क्षेत्रीय महाप्रबंधक कार्यालय, पटना के क्षेत्रीय महाप्रबंधक एके साही भी विशिष्ट अतिथि के रूप मे उपस्थित रहे. उन्होने इंडियन बैंक के द्वारा एम एस एम ई इकाइयों के लिए चलाये जा रहे विभिन्न सहायत कार्यक्रम कि विस्तृत जानकारी दी.

20 करोड़ लोन की स्वीकृति पत्र का हुआ वितरण

लोन मेला कार्यक्रम में इंडियन बैंक के अंचल कार्यालय द्वारा लगभग रु० 20 करोड़ के स्वीकृति पत्र भी वितरित की गयी. इस कार्यक्रम का संचालन सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विकास संस्थान, पटना के सहायक निदेशक संजीव कुमार वर्मा ने किया.

इस कार्यक्रम में उद्योग विभाग, बिहार सरकार की भी सहभागिता रही. कार्यक्रम में लघु उद्योग भारती, बिहार क्षेत्र के महासचिव सुमन शेखर, बिहार महिला उद्योग संघ, पटना की महासचिव प्रतिभा राज, पाटलिपुत्र उद्योग संघ, पटना के अध्यक्ष बलराज कपूर, सीआईआई, बिहार क्षेत्र के प्रतिनिधि सुदीप कुमार, दलित इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज़, बिहार क्षेत्र के अध्यक्ष कैप्टन सत्यप्रकाश एवं कमदेव एवं राज्य स्थित अन्य उद्योग संघों की भी सहभागिता रही.

इस कार्यक्रम में बायो-कम्पोस्टेबल प्लास्टिक, राइस मिल, रेडीमेड गार्मेंट्स, इंजीन्यरिंग, कन्स्ट्रकशन, फूड प्रोसेसिंग, चमरा इत्यादि के क्षेत्र के उद्यमियों ने भाग लिया. इस लोन मेला कार्यक्रम का उद्देश्य उद्यमियों को वित्तीय साक्षरता, सरल रूप से वित्तीय सहायता की उपलब्धता एवं वित्तीय खाते का सही रख-रखाव के संबंध में जागरूक करना था.