खाइये “शाही लीची” और “जर्दालु आम”, बिहार पोस्टल सर्किल पहुंचाएगा आपके दरवाजे तक

पटना (TBN डेस्क) | भारत सरकार के डाक विभाग और बिहार सरकार के बागवानी विभाग ने लोगों के दरवाजों तक ‘शाही लीची’ और ‘जर्दालु आम’ की आपूर्ति करने के लिए हाथ मिलाया है. बिहार पोस्टल सर्किल ने बिहार सरकार के बागवानी विभाग के साथ मुजफ्फरपुर से शाही लीची और भागलपुर से जर्दालु आम की लॉजिस्टिक्स करने तथा इसकी लोगों के दरवाजों तक प्रदायगी करने के लिए एक करार किया है.

जर्दालु आम

कोरोना वायरस को सीमित करने के लिए लॉकडाउन के कारण लीची और आम के उत्पादकों को फलों को बेचने के लिए बाजार तक ले जाने/परिवहन की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. लोगों के बीच इसकी आपूर्ति एक बड़ी चुनौती बन गई है. इसलिए आम लोगों की मांग को पूरी करने और किसानों को उनका फल बेचने के लिए बिना किसी बिचौलिये के सीधे उनका बाजार उपलब्ध कराने के लिए बिहार सरकार के बागवानी विभाग एवं भारत सरकार के डाक विभाग ने इस पहल के लिए हाथ मिलाया है.

मुजफ्फरपुर (बिहार) की ‘शाही लीची’ और भागलपुर (बिहार) का ‘जर्दालु आम’ अपने अनूठे स्वाद और और हर जगह मांग के कारण दुनिया भर में विख्यात है. लोग ऑनलाइन तरीके से वेबसाइट “horticulture.bihar.gov.in” पर आर्डर पेश कर सकते हैं.

आरंभ में यह सुविधा ‘शाही लीची’ के लिए मुजफ्फरपुर और पटना के लोगों को तथा ‘जर्दालु आम’ के लिए पटना और भागलपुर के लोगों के लिए उपलब्ध होगी. लीची की बुकिंग न्यूनतम 2 किग्रा तथा आम की बुकिंग न्यूनतम पांच किग्रा तक के लिए होगी.

ऑनलाइन बुकिंग तथा दरवाजों तक प्रदायगी की सुविधा उत्पादकों/किसानों को सीधे तौर पर इस नए बाजार में अच्छा लाभ अर्जित करने में मदद करेगी. ग्राहकों को भी कम कीमत पर अपने दरवाजों तक इन ब्रांडेड फलों को प्राप्त करने का लाभ मिलेगा. अभी तक वेबसाइट पर 4400 किग्रा लीची के लिए आर्डर दिए जा चुके हैं. सीजन के दौरान यह 1 लाख किग्रा तक जा सकता है. आमों के लिए आर्डर मई के अंतिम सप्ताह से आरंभ होंगे.

इस अवधि के बीच होगी होम डिलीवरी

बिहार सरकार के बागवानी विभाग द्वारा ज़र्दालू आम एवं शाही लीची के Online Order के लिए कहा है कि जब सामग्री उपभोगताओं के घर पर पहुच जाए तब ही उनके द्वारा राशि का भुगतान POS अथवा कैश के रूप में किया जाएगा. मुजफ्फरपुर,भागलपुर एवं पटना के चिन्हित पिन कोड वाले क्षेत्र के उपभोगता ही Online क्रय कर सकते हैं. शाही लीची नेट 2 Kg के एवं ज़र्दालू आम नेट 5Kg के पैक में आपूर्ति किया जाएगा. एक से अधिक पैक का भी क्रय किया जा सकता है. Online Order के क्रम में फलों की उपलब्धता रहने पर आपूर्ति सुनिश्चित की जाएगी. फल प्राकृतिक रूप से पका हुआ मिलेगा. शाही लीची (25 मई से 15 जून) एवं ज़र्दालू आम (1 जून से 20 जून) के बीच ही डिलीवरी की जाएगी.