वायरल बुखार और डेंगू को लेकर स्वास्थ्य विभाग सजग, कोरोना की तीसरी लहर को लेकर सबको सचेत रहना है – नीतीश

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| मुख्यमंत्री ने कहा है कि राज्य में वायरल बुखार और डेंगू को लेकर स्वास्थ्य विभाग द्वारा जो भी कार्यवाई करनी है, वो सब की जा रही है. वे सोमवार को ‘जनता के दरबार में मुख्यमंत्री’ कार्यक्रम खत्म होने के बाद पत्रकारों से बात कर रहें थे.

राज्य में वायरल बुखार और डेंगू को लेकर पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इसको लेकर दो दिन पहले स्वास्थ्य विभाग के साथ हमने समीक्षा बैठक की है. स्वास्थ्य विभाग ने जिलों में टीम भेजी है.

उन्होंने कहा कि सीवान में डेंगू का कोई मामला सामने नहीं आया है जबकि सारण में 1 और गोपालगंज में डेंगू के 9 मामले सामने आये हैं. उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा जो भी कार्रवाई करनी है वो सब किया जा रहा है. राजधानी पटना में भी इसको लेकर जांच चल रही है.

उन्होंने कहा कि वायरल बुखार से बच्चों के प्रभावित होने को लेकर स्वास्थ्य विभाग के साथ समीक्षा कर अधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दे दिया गया है. उन्होंने कहा कि अभी स्थिति नियंत्रण में है और स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से अलर्ट है.

Also Read| नाथुराम गोडसे आजाद भारत का पहला आतंकी – मनोज झा

मुख्यमंत्री ने आगे बताया कि वायरल बुखार को लेकर अस्पतालों में सभी जरुरी चीजों का इंतजाम है. अस्पतालों में बेड, चिकित्सक और दवा की कोई कमी नहीं है. उन्होंने बताया कि यूपी से सटे जिलों में इसका प्रकोप ज्यादा सामने आया है.

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के साथ ही प्रशासन के लोगों को भी सजग किया गया है. जिलों में डीएम भी इस पर नजर बनाये हुए हैं ताकि कोई मामला सामने आने के बाद तुरंत इलाज की व्यवस्था की जा सके. पहले भी कई तरह की बीमारियां सामने आती रही है, जिसको लेकर हर संभव कदम उठाये जाते रहे हैं. अभी ऐसी स्थिति नहीं है लेकिन फिर भी सरकार पूरी तरह से अलर्ट है.

कोरोना से बचाव को लेकर किये जा रहे उपाय

उन्होंने कहा कि दुनिया भर में ऐसी चर्चा है कि कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना है. इसको लेकर हम सबको सचेत रहना है. कोरोना के साथ ही दूसरी अन्य बीमारियों को लेकर भी सबको सचेत रहना है. बिहार में कोरोना से बचाव को लेकर बड़े पैमाने पर टीकाकरण किया जा रहा है.

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में अभी लोगों को कई चीजों में ढ़ील दी गयी है लेकिन सभी को सावधानी बरतनी है. हमारा सबसे आग्रह है कि भीड़भाड़ से बचें. बाहर से आने वाले लोगों के लिए कोरोना टेस्ट का इंतजाम कई जगहों पर किया गया है. नीतीश कुमार ने कहा कि हमलोग तो यही प्रार्थना करते हैं कि स्थिति सामान्य रहे. लोगों को पूरी तरह से सजग रहना है.

उन्होंने कहा कि राज्य में टीकाकरण का कार्य तेजी से हो रहा है. शहरों के साथ-साथ गांवों में भी टीकाकरण का कार्य तेजी से किया जा रहा है. हमलोगों ने छह महीने में छह करोड़ टीकाकरण करने का लक्ष्य रखा है लेकिन उससे भी ज्यादा टीकाकरण करायेंगे ताकि लोग सुरक्षित रहें.

उन्होंने कहा कि हम बराबर कहते हैं निरंतर कोरोना टेस्ट भी करें. अभी प्रतिदिन लगभग पौने 2 लाख तक कोरोना टेस्ट किया जा रहा है. प्रतिदिन 2 लाख टेस्ट जरूर करना है इसके लिये भी स्वास्थ्य विभाग हर तरह से कोशिश कर रहा है. टेस्ट करते रहना बहुत जरूरी है. अगर एक आदमी भी पॉजिटिव निकल गया और पता नहीं चला तो इससे कई लोग प्रभावित हो जायेंगे. इसके अलावा लोगों को अलर्ट करने के लिये हमलोग प्रचार भी कर रहे हैं. एयरपार्ट पर होने वाले टेस्ट के बारे में मुख्यमंत्री ने बताया कि 3-4 राज्यों से आने वाले का टेस्ट निश्चित रूप से किया जा रहा है.

उन्होंने कहा कि 17 सितंबर को प्रधानमंत्री के जन्मदिन के अवसर पर बिहार में बड़े पैमाने पर टीकाकरण किया जायेगा. इसको लेकर बड़े पैमाने पर तैयारी की जा रही है. उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव को लेकर सभी कार्य किये जा रहे हैं.