कोरोना के प्रकोप के साथ अब फ्लू का डर, रहें सतर्क..

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार में कोरोना काफ़ी तेज़ी से फ़ैल रहा है. एक तरफ़ कोरोना दूसरी तरफ बाढ़ और अब इस भयावह काल के बीच बदलते मौसम में तेजी से फ्लू भी पैर फैला रहा है. बता दें की फ्लू के भी लक्षण कोरोना जैसे ही होते हैं. इसी कारणवश लोगो को अब फ्लू भी डरा रहा है.

आपको बताते चलें की कोरोना महामारी के वर्तमान समय में लोगों को मानसूनी बीमारी फ्लू, वायरल फीवर, सर्दी और खांसी से डरने की नहीं, बल्कि सतर्क और सावधान रहने की आवयश्कता है. इसी बीच पारस हॉस्पिटल के डाॅ. वी.के. ठाकुर ने कई अहम बात बताते हुए कहा की इन बीमारियों से लगभग 25 फीसदी लोग प्रभावित होते है. उन्होंने आगे कहा की यदि दो दिनों से ज्यादा अगर आपको बुखार या खाँसी हो तो डाॅक्टर से सलाह जरुर ले लें. अतः इन बीमारियों के लक्षण कोरोना के जैसा ही समान मिलते हैं.

आप ये खबरें भी पढ़ें –
भारत ने 47 और चीनी ऐप्स पर लगाया बैन, और 250 ऐप अभी हैं रडार पर
महात्मा गांधी सेतु आवागमन के लिए तैयार, 31 को होगा उद्घाटन
बिना सैंपल दिए ही शख्स की रिपोर्ट आ गई कोरोना पॉजिटिव…

वही अगर इस दरमियान सांस लेने में तकलीफ महसूस हो तो अपने शरीर के ऑक्सीजन लेवल की जांच कराते रहें. बता दें की ऑक्सीजन का सामान्य लेवल 93 रहता है, अगर इससे कम हो तो तुरंत डाॅक्टर से कंसल्ट करे. इसी के साथ-साथ इन बीमारियों से बचाव हेतु गर्म पानी और काढ़े का सेवन करे,घर का शुद्ध खाना खाएं, मास्क पहने और सोशल डिस्टेंसिंगका पालन करे.

डाॅ. वी.के. ठाकुर ने आगे कहा कि तापमान के उतार-चढ़ाव के कारण इस बदलते मौसम में फ्लू, वायरल फीवर, सर्दी, खांसी और पानी से पनपने वाली कई बीमारियां उत्पन होती हैं. इसलिए अपने घर के आसपास जलजमाव न होने दें, तथा कूलर का पानी बदलते रहें.

वही बचाव को लेकर उन्होंने कहा की इन दिनों पानी उबालकर पीने का प्रयास करें, हाथ लगातार धोते रहें तथा हाथ से अपने चेहरे को न छूएं. मलेरिया, चिकेनगुनिया तथा डेंगू से बचने के लिए मच्छरदानी, मच्छररोधी क्रीम, मच्छररोधी उपकरण का इस्तेमाल जरूर करें. भीड़भाड़ वाले जगहों पर जाने में कोताही बरते. कोरोना से बचाव के लिए शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए संतुलित भोजन के अलावा विटामिन बी.सी. और डी के टैबलेट का सेवन करें.