बिहार के शुभम कुमार सिविल सर्विस 2020 में टापर, किया सूबे का नाम रौशन

पटना / नई दिल्ली (TBN – The Bihar Now डेस्क)| यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2020 का फाइनल रिजल्ट घोषित कर दिया गया है. इस बार कुल 761 अभ्यर्थियों को नियुक्ति के लिए रिकमन्ड किया गया है. देश की इस प्रतिष्ठित परीक्षा में बिहार के शुभम कुमार (Roll No. 1519294) ने प्रथम स्थान हासिल किया है. शुभम ने एंथ्रोपोलॉजी वैकल्पिक विषय से परीक्षा दी थी. उन्होंने आईआईटी बॉम्बे से सिविल इंजीनियरिंग में बीटेक की डिग्री हासिल करने के बाद यूपीएससी की परीक्षा दी है.

यूपीएससी की ओर जारी सूचना के अनुसार, सिविल सेवा परीक्षा (मुख्य) का आयोजन जनवरी 2021 में किया गया था. इस परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों का साक्षात्कार अगस्त-सितंबर 2021 में पूरा किया गया है. साक्षात्कार के बाद चयन सूची में जिन अभ्यर्थियों का नाम आया है, उनका रोलनंबर यूपीएससी की वेबसाइट https://www.upsc.gov.in/ पर देखे जा सकते हैं. अभ्यर्थी यहां दिए डायरेक्ट लिक पर भी अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं.

देखिए यूपीएससी 2020 फाइनल रिजल्ट सफल अभ्यर्थी (टॉप 35) की सूची-

सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2020 का आयोजन 4 अक्टूबर 2020 को किया गया था. इस परीक्षा में 10,40,060 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था जिसमें मात्र 4,82,770 अभ्यर्थियों ने ही परीक्षा में भाग लिया था. वहीं सीएसई प्रारंभिक परीक्षा में सफल होने वाले कुल अभ्यर्थियों की संख्या 10564 थी.

Also Read| 45 सेकंड में 39 लाख लूटा, विरोध करनेवाले गार्ड को गोली से भून डाला

सिविल सेवा परीक्षा(मुख्य) का आयोजन जनवरी 2021 में किया गया था. मुख्य परीक्षा में कुल 2053 अभ्यर्थियों ने ही साक्षात्कार/व्यक्तित्व परीक्षण क्वालीफाई किया था.

मुख्य परीक्षा में सफल घोषित 2053 अभ्यर्थियों का इंटरव्यू अगस्त-सितंबर 2021 में आयोजित किया गया था जिसमें कुल 761 (545 पुरुष और 216 महिला) अभ्यर्थियों को विभिन्न पदों पर नियुक्ति के लिए अनुशंसा भेजी गई है.

कौन हैं शुभम कुमार

शुभम कुमार (Shubham Kumar) ने यूपीएससी 2020 की परीक्षा में प्रथम रैंक लाकर कदवा, कटिहार सहित पूरे जिले व राज्य का नाम रोशन किया है. कटिहार के कुम्हरी निवासी सह उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक पूर्णियां के शाखा प्रबंधक देवानंद सिंह व पूनम सिंह के पुत्र शुभम की इस सफलता से पूरा गांव झूम उठा है.

शुभम की प्रारंभिक से लेकर दसवीं तक की शिक्षा विद्या विहार रेसिडेंशियल स्कूल पूर्णियां से हुई. जबकि 12वी की पढ़ाई चिन्मया विद्यालय बोकारो से हुई और 96 प्रतिशत अंक से पास वे उत्तीर्ण हुए. उसके बाद उन्होंने आईआईटी मुम्बई से सिविल इंजीनियरिग किया और फिर उन्होंने यूपीएससी की तैयारी शुरु कर दी.

दूसरे प्रयास में 2019 की परीक्षा में उन्हें 209वां रैंक मिला था. उन्होंने फिर से यूपीएससी की तैयारी की और यूपीएससी 2020 में पूरे देश में वे टॉप कर गये. शुभम ने बताया कि आईआईटी करने के बाद उन्हें यूपीएससी करने की प्रेरणा मिली थी. उन्होंने कड़ी मेहनत के साथ तैयारी की और सफलता प्राप्त किया.

उन्होंने बताया कि प्रसाशनिक सेवा में आने के बाद गरीबों के लिए कार्य करना उनकी दिली इच्छा है. साथ हीं लोगों को न्याय मिले एवं उसका विकास हो, यह उनका मिशन होगा. उन्होंने छात्र-छात्राओं के लिए अपने कड़ी मेहनत के साथ निरंतर प्रयास से सफलता मिलती है. उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता के साथ गुरुजनों को दिया.