बिहार को जल्द ही मिलेगा 1 लाख मेट्रिक टन यूरिया – केन्द्रीय उर्वरक मंत्री

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| केन्द्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री मनसुख मंडाविया ने बिहार को शीघ्र ही 01 लाख मेट्रिक टन यूरिया उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया है. उन्होंने यह आश्वासन बिहार के कृषि मंत्री अमरेन्द्र प्रताप सिंह द्वारा मंगलवार को राज्य में वर्त्तमान खरीफ मौसम में आवश्यकता के अनुसार उर्वरकों की आवश्यकता से कम उपलब्धता के संबंध में फोन पर बातचीत के क्रम में दिया.

मंत्री अमरेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि बिहार को वर्तमान खरीफ मौसम में 31 अगस्त 2021 तक 5.90 लाख मेट्रिक टन यूरिया की आपूर्त्ति हुई है, जबकि पिछले वर्ष इसी अवधि में 8.12 लाख मेट्रिक टन की आपूर्त्ति की गई थी. इस प्रकार पिछले वर्ष की तुलना में अभी तक 2.22 लाख मेट्रिक टन यूरिया की कम आपूर्त्ति हुई है.

उन्होंने केन्द्रीय मंत्री को बताया कि अगले 10 दिनों में 1 लाख मेट्रिक टन यूरिया की आवश्यकता है. इस पर केन्द्रीय मंत्री ने बिहार को शीघ्र ही 1 लाख मेट्रिक टन यूरिया की आपूर्त्ति करने का आश्वासन दिया.

अमरेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि सरकार राज्य के किसानों को पारदर्शी तरीके से जीरो टॉलरेंस पॉलिसी के तहत निर्धारित मूल्य पर उर्वरक उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही है.

Also Read| कल से राजेंद्रनगर टर्मिनल-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस में होगा यात्रा का सुखद अनुभव

उन्होंने कहा कि किसानों से निर्धारित मूल्य से अधिक एक रूपया भी लेना अपराध है, राज्य में उर्वरकों की तस्करी को रोकने तथा कालाबाजारी पर लगाम लगाने हेतु खरीफ 2021 में विभाग द्वारा “जीरो टॉलरेंस नीति” अपनाई जा रही है.

“जीरो टॉलरेंस नीति” के तहत् प्रत्येक स्तर पर विभाग एवं उर्वरक विक्रेताओं की जिम्मेदारी तय की गई है. कंपनी के प्रतिनिधि, थोक उर्वरक तथा खुदरा उर्वरक व्यापारी में से कोई भी दोषी पाया गया तो उन पर विभाग द्वारा सख्त कारवाई की जायेगी.

उन्होंने बताया कि रेलवे रेक प्वाईंट से भाड़े के नाम पर तथा अन्य कारणों से अधिक मूल्य वसूल करना, किसी भी थोक तथा खुदरा विक्रेताओं को अधिक मूल्य पर उर्वरक देना तथा उर्वरक आपूर्तिकर्त्ता कंपनियों द्वारा यूरिया के साथ टैग कर किसी अन्य उर्वरक की बिक्री करना भी दण्डनीय अपराध है. इनमें से किसी भी प्रकार की शिकायत प्राप्त होने पर दोषी के खिलाफ 24 घण्टे के भीतर एफआईआर दर्ज करायी जायेगी.