शराबबंदी: अभी तक का सबसे बड़ा और व्यापक ऑपरेशन

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| राज्य में शराबंबदी (Prohibition in Bihar) को सख्ती से लागू कराने के लिए ऑपरेशन न्यू ईयर (Operation New Year in Bihar) की बड़ी तैयारी है. पुलिस मुख्यालय ने 10 एडीजी और 2 आईजी को इस ऑपरेशन की कमान सौंप दी है.

बिहार में पहली बार शराब के खिलाफ किसी ऑपरेशन (biggest operation against prohibition in Bihar) में एडीजी स्तर के 10 अफसरों को एक साथ लगाया गया है. खास बात यह है कि इस ऑपरेशन में एसटीएफ,एटीसी, सीआईडी और स्पेशल ब्रांच के एडीजी भी लगाए गए हैं. राज्य में शराब के खिलाफ 15 दिसंबर से ऑपरेशन न्यू ईयर की तैयारी है. यह ऑपरेशन जनवरी के पहले पखवारे तक जारी रहेगा.

माना जा रहा है कि बिहार में शराब के खिलाफ यह अभी तक का सबसे बड़ा और व्यापक ऑपरेशन होगा. मुख्यालय ने इस बाबत आदेश जारी कर दिया है. शराबंबदी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की समीक्षा बैठक के बाद से ही बड़े ऑपरेशन की रणनीति तैयार की जा रही थी.

यह भी पढ़ें| बाढ़ ट्रिपल मर्डर में एक की हुई गिरफ़्तारी, अन्य अभियुक्तों की खोज जारी

इसके तहत सीआईडी के एडीजी जितेन्द्र कुमार को केन्द्रीय क्षेत्र (सेंटल रेंज) की मॉनिटरिंग की जिम्मेवारी सौंपी गई है. एडीजी रेल, निर्मल कुमार आजाद को मगध क्षेत्र, एडीजी (ऑपरेशन) सुशील मानमिंह खोपड़े को शाहाबाद क्षेत्र की मॉनिटर्रिंग की जिम्म॑वारी सौंपी गई है. आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) के एडीजी एस.रविन्द्रण को तिरहुत क्षेत्र, एडीजी (ट्रैनिंग ) आर.मलार विझि चंपारण क्षेत्र, एडीजी स्पेशल ब्रांच सुनील कुमार को सारण क्षेत्र, एडीजी एससीआरबी एवं आधुनिकीकरण डॉ कमल किशोर सिंह को पूर्णिया क्षेत्र की कमान सौंपी गई है.

वहीं एडीजी (बजट, अपील एवं कल्याण) पारसनाथ को मुंगेर क्षेत्र, एडीजी (कमजोर वर्ग) अनिल किशोर यादव को बेगूसराय क्षेत्र और एडीजी (सुरक्षा) बच्चू सिंह मीणा को मिथिला क्षेत्र की मनिटरिंग की जिम्मेवारी सौंपी गई है.

इसके अलावा आईजी आधुनिकीकरण के.एस.अनुपम को पूर्वी क्षेत्र भागलपुर और बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस के आईजी एम.आर.नायक को कोशी क्षेत्र की मॉनिटरिंग की जिम्मेवारी सौंपी गई है. पुलिस मुख्यालय के आदेश के अनुसार ये सभी पदाधिकारी मद्य निषेध के लिए अगल-अलग रेंज के विभिन्न जिलों में की जा रही कार्रवाई की मॉनिटरिंग करेंगे.

पहली बार मुख्यालय में तैनात बड़े अफसरों को शराबबंदी के लिए फील्ड में उतारा गया

शराब के खिलाफ किसी भी ऑपरेशन में अभी तक मुख्यालय में तैनात एडीजी और आईजी स्तर के एक दर्जन अफसरों को फील्ड में नहीं उतारा गया था. पुलिस मुख्यालय में मद्य निषेध के आईजी यह पूरा काम देख रहे थे. अब एडीजी स्तर के अफसरों को भी मॉनिटरिंग में लगा दिया गया है.

शराब के खिलाफ जिन एक दर्जन आईपीएस अफसरों को इस ऑपरेशन में लगाया गया है उन्हें आवंटित रेंज में जाकर शराबबंदी कानून को सख्ती से लागू कराना है. इन अफसरों को हर महीने जिलों का दौरा कर की जा रही कार्रवाई के संबंध में अपनी टिप्पणी हर महीने डीजीपी को सौंपनी है.

(इनपुट: डीबी)