बजट में पूर्व मध्य रेल के लिए पर्याप्त धनराशि का आवंटन – CPRO ने बताया

हाजीपुर (रेल संवाददाता) | पूर्व मध्य रेल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बजट 2020-21 में पूर्व मध्य रेल को आवंटित धनराशि के बारे में विस्तार से बताया है. इस विज्ञप्ति के अनुसार पूर्व मध्य रेल के विकास, विस्तार और आधुनिकीकरण के लिए बजट 2020 – 21 में पर्याप्त धनराषि का आवंटन किया गया है ताकि नई रेल लाइन, आमान परिवर्तन, विद्युतीकरण सहित सभी परियोजनाएं तथा यात्री सुविधा से संबंधित कार्यों में और गति लायी जा सके. इस बजट में पूर्व मध्य रेल को कैपिटल एक्सपेंडीचर, बजटीय सहयोग आदि के रूप में कुल 4614 करोड़ रूपए का आवंटन किया गया है.

विज्ञप्ति में आगे बताया गया है कि इस बजट में पूर्व मध्य रेल क्षेत्राधिकार में चल रहे नई रेल लाइन निर्माण कार्य के लिए लगभग 459 करोड़ रूपए, आमान परिवर्तन कार्यों हेतु 173 करोड़ एवं दोहरीकरण कार्य हेतु 54 करोड़ का प्रावधान किया गया है ताकि परियोजनाओं को निर्धारित समय सीमा तक पूरा किया जा सके. संरक्षा को विषेष महत्व देते हुए सड़क संरक्षा कार्य (उपरी/निचले सड़क पुल) से संबंधित कार्य हेतु 191 करोड़ तथा सड़क संरक्षा (समपार) से संबंधित कार्यों को पूरा करने के लिए 60 करोड़ का प्रावधान किया गया है. ट्रेनों की गति में वृद्धि तथा समय पालन में सुधार के दृष्टिकोण से ट्रैक का नवीनीकरण अत्यंत ही महत्वपूर्ण पहलु है. पूर्व मध्य रेल द्वारा इस दिषा में काफी तेजी से कार्य किए जा रहे हैं तथा इस बजट में ट्रैक नवीनीकरण हेतु 580 करोड़ रूपए दिए गए हैं ताकि अधिक से अधिक ट्रैकों का नवीनीकरण किया जा सके. ट्रैकों के नवीनीकरण के पश्चात् गाड़ियों की गति में वृद्धि की जा सकेगी तथा समय पालन में भी और अधिक सुधार आएगा. यात्रियों को ट्रेनों और स्टेषन परिसर में अधिक से अधिक सुविधाएं प्रदान की जा सकें इसके लिए कार्य निरंतर जारी है. यात्री सुविधा के लिए इस बजट में 154 करोड़ रूपए का आवंटन किया गया है. इसी क्रम में उत्पादन इकाइयों/ कारखानों के लिए 111 करोड़, सिगनल एवं दूरसंचार संबंधी कार्य के लिए 100 करोड़, पुल एवं सड़क पहुंच संबंधी कार्य के लिए 99 करोड़ का आवंटन किया गया है. इसके अलावा अन्य कार्यों के लिए भी पर्याप्त धनराषि का आवंटन किया गया है.