एनटीपीसी में हुआ पीएसए ऑक्सीजन संयंत्रों का उद्घाटन

दादरी (TBN – The Bihar Now डेस्क)| एनटीपीसी दादरी और एनटीपीसी बोंगईगांव में गुरुवार को पीएसए ऑक्सीजन संयंत्र (Pressure Swing Adsorption Oxygen Plants)का उद्घाटन किया गया. प्रधानमंत्री द्वारा एम्स ऋषिकेश से वर्चुअल तौर पर, पीएम केयर्स (PM CARES) द्वारा वित्तपोषित प्रत्येक राज्य और केंद्रशासित प्रदेश में पीएसए ऑक्सीजन प्लांट (PSA) के समर्पण की श्रृंखला में एमओपी के दिशा-निर्देशों के अनुसार यह उद्घाटन किया गया.

मुख्य अतिथि-एनटीपीसी दादरी के सीजीएम बी. श्रीनिवास राव ने गुरुवार 07 अक्टूबर को एनटीपीसी दादरी में पीएसए ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन किया. प्रधानमंत्री द्वारा वर्चुअल तौर पर उद्घाटन और संबोधन के समय सीजीएम (दादरी) बी. श्रीनिवास राव अन्य वरिष्ठ अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ उपस्थित थे.

एनटीपीसी के दादरी ऑक्सीजन संयंत्र में 5 घनमीटर प्रति घंटे की क्षमता के दो संयंत्र हैं, जो 83 लीटर प्रति मिनट ऑक्सीजन उत्पादन में सक्षम हैं. यह संयंत्र कोरोना महामारी के खिलाफ तैयारियों को देखते हुए स्थापित किया गया था. एनटीपीसी दादरी की यह इकाई टाउनशिप और आसपास के क्षेत्र में चिकित्सा ऑक्सीजन की आवश्यकता होने पर किसी भी अप्रिय घटना को रोकने में मदद करेगी.

इसके अलावा, कोविड-19 संकट से निपटने के लिए एनटीपीसी बोंगईगांव में ऑक्सीजन संयंत्र का उद्घाटन किया गया. विद्युत मंत्रालय के तहत, एनटीपीसी बोंगईगांव ने अपने कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत 15 घन एनएम प्रति घंटे (पीएसए ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र 3×5 घन एनएम प्रति घंटे मॉड्यूल होगा) की कुल क्षमता के पीएसए प्रौद्योगिकी आधारित ऑक्सीजन संयंत्र के लिए ऑक्सीजन बूस्टिंग और बॉटलिंग प्लांट का उद्घाटन किया.

यह भी पढ़ें| एम्स ऋषिकेश सहित 35 ऑक्सीजन संयंत्रों का पीएम ने किया उद्घाटन, रेल अस्पतालों में भी अब उपलब्ध

ऑक्सीजन संयंत्र का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा पीएम केयर फंड के तहत देश भर में विभिन्न ऑक्सीजन संयंत्रों के समर्पण के बाद किया गया था. ऑक्सीजन संयंत्र को एक निवारक उपाय और कोविड- 19 के खिलाफ देखभाल के रूप में स्थापित किया गया था.

एनटीपीसी बोंगईगांव अस्पताल परिसर में असम के कोकराझार बीटीआर के संयुक्त निदेशक (स्वास्थ्य सेवाएं) डॉ. जहीरुद्दीन अहमद द्वारा एनटीपीसी बोंगईगांव स्टेशन के ईडी सुब्रत मंडल और कोरोना योद्धाओं की उपस्थिति में उद्घाटन किया गया. कोरोना योद्धाओं में बिजली स्टेशन के कर्मचारी और चिकित्सा कर्मचारी शामिल हैं, जिन्होंने इस संयंत्र की स्थापना और इसे पूरा करने में योगदान दिया है.

एनटीपीसी बोंगईगांव के ऑक्सीजन संयंत्र के 15 वर्ष की अवधि तक चलने का अनुमान है. इसमें एक पाइपिंग नेटवर्क है, जो एनटीपीसी साइट अस्पताल में 40 बिस्तरों से जोड़ा जा रहा है. ऑक्सीजन की सीधी आपूर्ति (पीएसए मॉड्यूल) से सिलेंडर बैंक और सिलेंडर बैंक से सीधी आपूर्ति के साथ सिलेंडर बैंकों से बैक अप आपूर्ति का प्रावधान भी किया जा रहा है. ऑक्सीजन संयंत्र मांग पर स्वतः ऑक्सीजन उत्पादन की सुविधा से लैस है तथा भारतीय मानक/आईएसओ और अन्य अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुसार ऑनलाइन शुद्धता संकेत एवं ऑडियो-विजुअल अलार्म रिमोट मॉनिटरिंग के लिए एनालॉग आउटपुट पीएसए कार्यों के लिए मिमिक से जुड़ी डिस्प्ले आवश्यकताओं को पूरा करता है.