न्यायाधीश मौत मामला, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आया सामने

धनबाद / रांची (TBN – The Bihar Now डेस्क)| न्यायाधीश उत्तम आनंद का पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गया है. पोस्टमार्टम में खुलासा हुआ है कि उनका जबड़ा और सिर की हड्डी कई जगहों पर टूटी हुई थी. सिर पर गंभीर चोट लगने से उनकी मौत हुई थी. इसके अलावा शरीर पर तीन जगह बाहरी चोट और सात जगह पर अंदरुनी चोट लगी है.

पुलिस को मिले पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर स्पष्ट है कि जज के शरीर पर चोट लगने की वजह से वह बेसुध होकर गिरे थे. उनके ब्रेन में भी गंभीर चोट लगा था. इसके अलावा जज के पेट में खून चला गया था.

अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे की जांच होगी. अस्पताल द्वारा पुलिस के अलावा धनबाद के डीसी और एसडीएम को भी पोस्टमार्टम रिपोर्ट सौंप दिया गया है.

ऑटो ने मारा था धक्का

आपको बता दें कि बुधवार 28 जुलाई की सुबह जज उत्‍तम आनंद (उम्र 50 वर्ष) को ऑटो ने उस वक्‍त धक्का मारा था जब वे मार्निंग वॉक के बाद अपने घर लौट रहे थे. न्यायाधीश गोल्फ ग्राउंड से टहल कर वापस हीरापुर बिजली ऑफिस के बगल में स्थित अपने क्वार्टर लौट रहे थे. रणधीर वर्मा चौक से चंद कदम की दूरी पर गंगा मेडिकल के सामने हादसा हुआ.

इस घटना के बाद ऑटो चालक फरार हो गया था. संयोगवश पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई थी. फुटेज देखने के बाद पुलिस ने मामले को हत्या के एंगल से जाँचना शुरू किया था. फिर पुलिस ने उस ऑटो को गिरिडीह से बरामद कर लिया. ऑटो ड्राइवर सहित दो आरोपियों, आरोपी लखन वर्मा और राहुल वर्मा को गिरफ्तार कर लिया.

Also Read | पेगासस जासूसी मामले में पांच पत्रकार पहुंचे सर्वोच्च न्यायालय

दोनों गिरफ्तार आरोपियों ने पुलिस को बताया कि संतुलन बिगड़ने के कारण यह दुर्घटना हुई थी. जबकि पुलिस यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि जज की मौत महज एक दुर्घटना है या फिर सोची-समझी साजिश के तहत उनकी हत्‍या की गई.

वैसे मामला सुप्रीम कोर्ट जाने के बाद शनिवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराने की अनुशंसा कर दी जिसका दिवंगत न्यायाधीश के परिजनों ने स्वागत किया है.