टीकाकरण के बाद स्वास्थ्यकर्मी की मौत, अधिकारी ने कहा यह मृत्यु की वजह नहीं

हैदराबाद (TBN – The Bihar Now डेस्क)| 16 जनवरी से पूरे देश में कोरोना संक्रमण से बचने के लिए टीकाकरण कार्यक्रम शुरू हो चुका है. लोगों में इसके प्रति उत्साह भी है और कोरोना को हराने का जज्बा भी. इसी बीच तेलंगाना से एक खबर आ रही है जहां एक स्वास्थ्यकर्मी की मौत कोरोना का टीका लगाने के एक दिन बाद हो गई है. हालांकि अधिकारियों का कहना है कि मौत का कारण कोरोना का टीका नहीं है.

सूत्रों के मुताबिक, निर्मल जिले के एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (PHC) में मंगलवार को सुबह लगभग 11.30 बजे कार्यकर्ता का टीकाकरण किया गया था और कहा जाता है कि बुधवार को अहले सुबह लगभग 2.30 बजे उन्हें सीने में दर्द होने लगा था.

स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि तेलंगाना के निर्मल जिले में एक 42 वर्षीय स्वास्थ्यकर्मी, जिसे कोविड -19 का टीका लगाया गया था, की बुधवार की सुबह सीने में दर्द की शिकायत के बाद मृत्यु हो गई. अधिकारी के अनुसार प्रारंभिक निष्कर्षों के अनुसार इसका टीकाकरण से कोई संबंध नहीं है.

राज्य पब्लिक स्वास्थ्य विभाग के निदेशक श्रीनिवास राव ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि कार्यकर्ता को मृत अवस्था में बुधवार सुबह 5.30 बजे जिला अस्पताल लाया गया था. उनके अनुसार, प्रारंभिक निष्कर्ष बताते हैं कि मृत्यु टीकाकरण से संबंधित नहीं लगती है.

दिशानिर्देशों के अनुसार, डॉक्टरों की एक टीम द्वारा पोस्टमार्टम किया जाएगा. जिला AEFI (टीकाकरण के बाद की प्रतिकूल घटना) समिति मामले की जांच कर रही है और यह राज्य AEFI समिति को अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी.

राज्य AEFI समिति, रिपोर्ट लेने के बाद अपना रिपोर्ट केंद्रीय AEFI पैनल को प्रस्तुत करेगी. बता दें कि राज्य में 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान शुरू हुआ.