‘नमामि गंगे प्रोजेक्ट’ के ब्रांड एंबेसडर बने चाचा चौधरी

नई दिल्ली (TBN – The Bihar Now डेस्क) | जाना माना भारतीय कॉमिक्स हीरो, चाचा चौधरी, वह शख्स, जिसका दिमाग कंप्यूटर से भी तेज काम करता है, अब नमामि गंगे कार्यक्रम के साथ हाथ मिलाने के लिए आगे आये हैं. 2014 में केंद्र सरकार द्वारा शुरू किये गए इस योजना का उद्देश्य राष्ट्रीय नदी गंगा का प्रदूषण, संरक्षण और कायाकल्प करने थी. डायमंड टून्स गंगा नदी के सांस्कृतिक और आध्यात्मिक महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने और गंगा कायाकल्प के लिए आम जनता में सर्वोत्तम उपलब्ध ज्ञान को उपलब्ध कराने के लिए चाचा चौधरी के साथ इस नई टॉकिंग कॉमिक्स ’की अवधारणा और प्रकाशन करेगा.

डायमंड टून्स की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार चाचा चौधरी इस मिशन का नया चेहरा बनने के लिए बिल्कुल तैयार है और देश भर में इस अभियान को आक्रामक रूप से सफलतापूर्वक बढ़ावा देने में मदद करेंगे. कॉमिक्स वयस्कों, युवाओं, छात्रों में मजबूत व्यवहार परिवर्तन को बढ़ावा देने के लिए संपन्न है. इस नई कॉमिक्स का कई भारतीय भाषाओं में अनुवाद किया गया है.

सहयोग पर बोलते हुए, डायमंड टूनस के निदेशक, मनीष वर्मा ने कहा कि चाचा चौधरी ने टॉकिंग कॉमिक्स’ के माध्यम से जो परिवर्तन किया है, उसने साबित कर दिया है कि वह व्यवहार परिवर्तन के लिए सभी पीढ़ियों के सबसे बड़े प्रभावशाली हैं और लोग उन पर अधिक से अधिक भरोसा करते हैं. भारत में यह करैक्टर पहले भी स्वच्छ भारत मिशन की तरह इस तरह के अभियानों का एक अभिन्न हिस्सा रहा है, नई ऊर्जा को प्रभावित करता है और आंदोलन के पक्ष में कुशलता से काम करता है.

मनीष वर्मा ने बताया कि चाचा चौधरी को शामिल करना इस प्रतिष्ठित चरित्र की शक्ति और प्रभाव को दर्शाता है जो अभी भी सभी आयु समूहों और सामाजिक प्रोफाइल के लोगों तक पहुंचने में बेहतर काम कर रहा है. उन्होंने कहा कि कॉमिक्स को हमारे 360 डिग्री वितरण नेटवर्क के माध्यम से वितरित किया जाएगा जिसमें प्रिंट, स्कूल एकीकरण, लाइब्रेरी प्रोग्राम, एनीमेशन, आउटडोर, डिजिटल और सोशल मीडिया शामिल हैं.

इधर निखिल प्राण, प्रबंध निदेशक, PRANS ने कहा, “हम सभी कॉमिक्स पढ़ते हुए बड़े हुए हैं जहाँ चाचा चौधरी अपने मस्तिष्क का उपयोग समस्या को हल करने के लिए करते हैं. यह चरित्र हर भारतीय के दिल में गहरा है. यह हमारे लिए गर्व की बात है कि चाचा चौधरी फिर से एक और सामाजिक मुद्दे का प्रचार करने और निपटने के लिए यहां हैं. यह चाचा चौधरी के माध्यम से है कि राष्ट्रीय महत्व के विषयों को मजेदार और रोचक तरीके से बच्चों को पढ़ाया जाता है ”.

एनएमसीजी के महानिदेशक राजीव रंजन मिश्रा ने कहा कि चाचा चौधरी का नमामि गंगे का ब्रांड एंबेसडर बनना बच्चों को नदी के कायाकल्प के लिए जोड़ने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा.

जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने इस पहल की सराहना करते हुए कहा कि गंगा कायाकल्प एक सतत कार्य है, जिसके लिए हमें सार्वजनिक भागीदारी को बढ़ावा देना होगा, हमें लोगों के बीच कर्तव्य की भावना पैदा करनी होगी.

बताते चलें कि डायमंड टून्स, डायमंड ग्रुप का सबसे रचनात्मक प्रभाग है. यह बच्चों को न केवल मनोरंजन प्रदान करते हैं, बल्कि एक अद्वितीय मंच पर शिक्षा भी प्रदान करते हैं. डायमंड टून्स का अन्य प्रमुख बच्चों के ब्रांडों के साथ मिलकर काम करने का इतिहास रहा है. डायमंड टून्स का एक हिस्सा: चाचा चौधरी, बिल्लू और पिंकी भारत में सबसे ज्यादा पसंद और पढ़े जाने वाले कॉमिक किरदार हैं. प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि चाचा चौधरी कॉमिक श्रृंखला ने 40 से अधिक वर्षों के लिए भारतीय बच्चों की के दिलों पर राज किया है और आज भी अधिकतम लोगों तक पहुंचना जारी है.