सुशांत केस में पहली बार आदित्य ठाकरे आये सामने, कहा हो रही सड़क छाप पॉलिटिक्स

मुंबई (TBN – The Bihar Now डेस्क) | सुशांत सिंह राजपूत केस में महाराष्ट्र सरकार के कैबिनेट मंत्री आदित्य ठाकरे आज पहली अपनी सफाई है. जी हाँ खबर यह है कि आदित्य ठाकरे ने सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड मामले में चल रही तहकीकात और सभी राजनीतिक नेताओं से की जा रही CBI जांच को सड़क छाप पॉलिटिक्स बताया है. आदित्य ने कहा कि इस मामले में उनके परिवार और उन पर कीचड़ उछाला जा रहा है. लेकिन वो धैर्य बनाए हुए हैं.

आदित्य ठाकरे ट्वीट

आदित्य ने कहा, “मेरा इस मामले से कोई लेना देना नहीं है. बॉलीवुड मुंबई का एक बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है. बहुत से लोगों का जीवन इस पर निर्भर करता है. हां, मेरे भी इस इंडस्ट्री के साथ बहुत से संपर्क हैं. लेकिन वो कोई अपराध नहीं है. सुशांत सिंह राजपूत का निधन बहुत शॉकिंग और दुखद है. मुंबई पुलिस मामले की जांच कर रही है और महाराष्ट्र पुलिस पूरी दुनिया में मशहूर है.”

आगे वह लिखते है कि, “वो जो प्रोटोकॉल में यकीन नहीं रखते हैं, वही लोग हैं जो जांच को गुमराह किए जाने के आरोप लगा रहे हैं. बाल ठाकरे का नाती होने के नाते मैं ये बता दूं कि मैं ऐसा कुछ भी नहीं करूंगा जिससे महाराष्ट्र, शिवसेना या ठाकरे की साफ छवि को बट्टा लगे. जो लोग आधारहीन आरोप लगा रहे हैं उन्हें ये पता होना चाहिए.”

“कोई भी जिसे इस मामले में कोई काम की जानकारी पता है उसे पुलिस से संपर्क करना चाहिए. मैं बहुत धैर्य के साथ सक्रिय बना हुआ हूं. किसी को भी इस मुगालते में नहीं रहना चाहिए कि वो इस मामले में सरकार और ठाकरे परिवार के ऊपर कीचड़ उछाल सकते हैं.”

आदित्य ठाकरे ने कहा, “ये ओछी राजनीति है. लेकिन मैं धैर्य बनाए हुए हूं. लोग जल रहे हैं और ऐसा महाराष्ट्र सरकार की कामयाबी के चलते हो रहा है. कुछ लोग बेमतलब ठाकरे परिवार पर कीचड़ उछाल रहे हैं और ऐसा उनकी खीज और राजनीतिक नाकामयाबी के चलते हो रहा है. इस मुद्दे का राजनीतिकरण करना इंसानियत के दामन पर दाग है. मेरा इस मामले से कोई लेना देना नहीं है.”