पटना: सभी वार्डों में कोविड-19 टीकाकरण का व्यापक प्रचार-प्रसार अभियान शुरू

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| शुक्रवार को बिहार राज्य स्वास्थ्य समिति (Bihar State Health Society) के कार्यालय परिसर से कोरोना टीकाकरण के व्यापक प्रचार-प्रसार हेतु 75 ई-रिक्शा वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया. इस मौके पर राज्य स्वास्थ्य समिति बिहार के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार, अपर कार्यपालक निदेशक अनिमेष कुमार पराशर, राजेश कुमार (उप सचिव सह प्रभारी आईसी) समेत अन्य पदाधिकारीगण मौजूद थे.

कोरोना के विरुद्ध लड़ाई में टीकाकरण बहुत अहम योगदान निभा रहा है. कोरोना टीकाकरण हेतु जनमानसों में जागरूकता फैलाने के लिए पटना जिला स्थित सभी 75 वार्डों (प्रत्येक वार्ड में एक) में ई-रिक्शा द्वारा माइकिंग कराने के उद्देश्य से इन प्रचार-प्रसार वाहनों को रवाना किया गया.

कोविड-19 महामारी से बचाव हेतु राज्य में 16 जनवरी 2021 से टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है. दिनांक 1 मार्च 2021 से तृतीय चरण में 60 वर्ष या उससे ऊपर के नागरिकों एवं 45 से 59 वर्ष के वैसे नागरिकों का टीकाकरण किया जाना है जो “Co-Morbidities” से ग्रसित हैं.

दवाई भी और कड़ाई भी

जिन कोरोना योद्धाओं को कोरोना टीका का पहला डोज लगाया गया है उन्हें 28वें दिन दूसरा डोज दिया जाएगा. दूसरे रोज के 14 दिन बाद ही कोरोना के प्रति रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है. इसलिए टीके के बाद भी सावधानी बरतनी जरूरी है. सावधानी के तौर पर मास्क का इस्तेमाल, शारीरिक दूरी एवं हाथों की सफाई का विशेष ख्याल रखने की जरूरत है. प्रधानमंत्री ने भी टीकाकरण लॉन्च के दौरान इस बात पर जोर देते हुए कहा है कि “दवाई भी और कड़ाई भी”.

आप यह भी पढ़ेंBihar STET 2019 रिजल्ट घोषित, यहां देखें रिजल्ट

कोविड-19 वैक्सीन सभी के लिए सुरक्षित

कोविड टीका सभी प्रमाणित वैक्सीन पूरी प्रक्रिया के गुजरने के बाद ही स्वीकृत की गई है और यह पूर्णतया सुरक्षित है. चरणवार तरीके से इसे सभी को उपलब्ध कराने की सरकार की योजना है. टीकाकरण के पश्चात लाभार्थी को किसी प्रकार की परेशानी के प्रबंधन के लिए सत्र स्थल पर एनाफ़लीसिस कीट एवं एईएफआई कीट की पर्याप्त संख्या में उपलब्धता सुनिश्चित की गई है तथा इसके संबंध में टीकाकर्मियों को आवश्यक प्रशिक्षण भी दिया गया है.