कोरोना: JEE-NEET परीक्षार्थियों ने पूछा, संक्रमित हुआ तो कौन लेगा गारेंटी

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | कोरोना काल में एक तरफ जहाँ पिछले 4-5 महीनों से स्कूल-कॉलेज बंद हैं, वहीं दूसरी तरफ सरकारी मेडिकल कॉलेजों के अंडर ग्रेजुएट कोर्स में दाखिले के लिए आयोजित होने वाली NEET और आईआईटी और एनआईटी में दाखिले के लिए आयोजित होने वाली JEE की परीक्षा अगले महीने से शुरू होने जा रही है.

आपको बता दें कि हर साल की तरह इस साल भी NEET मई में होने वाली थी और JEE जनवरी और अप्रैल के बीच में होने वाली थी, लेकिन कोरोना की वजह से इन दोनों परीक्षाओं को कैंसिल कर दिया गया था. लेकिन अब JEE-NEET परीक्षा अगले महीने से शुरू होने जा रही है.

लगातार कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच छात्रों ने परीक्षा की टाइमिंग पर सवाल उठाये हैं. उनका कहना है कि अगर उन्हें कोरोना संक्रमण हो गया तो इसकी गारंटी कौन लेगा? क्या परीक्षा लेने वाली एजेंसी एनटीए के पास इसका कोई जवाब है.

चिंता सिर्फ छात्रों को नहीं बल्कि उनके अभिभावकों को भी रही है कि जब देश में कोरोना से इतने लोगों की मौत हो रही है और रोज़ाना हज़ारों नए मामले आ रहे हैं तो उनके बच्चे कैसे सेफ रहेगें.

साथ ही बिहार में लगे लॉकडाउन के कारण ट्रेनों की आवाजाही बंद है. बस नहीं चल रही है. ठहरने के लिए छात्रों का जो ठिकाना, कम दाम वाले होटल, लॉज होते थे, वो सब बंद है. ऐसे में छात्र परीक्षा में कैसे शामिल होंगे ये एक जायज सवाल है.