युवाओं को एक सूत्र में बांधने के लिए होगी यह ‘पैदल भारत यात्रा’

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| आगामी गणतंत्र दिवस से ‘पैदल भारत यात्रा’ (Paidal Bharat Yatra) शुरू होने जा रही है जिसका उद्देश्य राष्ट्र निर्माण, व्यवस्था परिवर्तन एवं युवाओं को जागृत करना है. समाजसेवी व पैदल भारत यात्री विजय कुमार के नेतृत्व में यह पैदल यात्रा की जाएगी. सोमवार को राजधानी पटना में आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में इस बात की जानकारी दी गई.

विजय कुमार ने मीडिया को बताया कि उनके दल द्वारा आयोजित यह पैदल यात्रा (India tour on foot) राष्ट्र निर्माण, व्यवस्था परिवर्तन एवं युवाओं को जागृत करने के लिए की जा रही है. उन्होंने कहा कि इस यात्रा का उद्देश्य युवाओं के साथ संपर्क स्थापित करना है, उन्हें संदेश भी देना है और उनके विचारों को सुनना, जानना और समझना भी है.

युवाओं को भागीदारी दिलाना उद्देश्य

उन्होंने आगे बताया कि इस पैदल यात्रा के माध्यम से पूरे देश के युवाओं को एक सूत्र में बांधने और उन्हें देश के विकास से जोड़ने की कोशिश की जाएगी. इसका उद्देश्य पंचायत से लेकर संसद (पार्लियामेंट) तक युवाओं को भागीदारी दिलाना है, ताकि व्यवस्था में परिवर्तन लाया जा सके. विजय ने कहा कि देश के विकास एवं युवाओं की समस्याओं के निदान के लिए कौन-कौन सा कार्य किया जाए, इन बातों की जानकारी भी हम भारत यात्रा के दौरान हासिल करने का कार्य करेंगे.

समाजसेवी ने कहा कि इस ‘भारत पैदल यात्रा’ से पहले जेपी आन्दोलन में, पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के साथ, सामाजिक कार्यकर्त्ता निर्मला देश पाण्डेय और कर्पूरी ठाकुर जैसे महापुरुषों के साथ पदयात्राएं कर चुके हैं. विजय के अनुसार, इन्हीं महापुरुषों की प्रेरणा से वे भारत पैदल यात्रा के लिए प्रेरित होकर हिम्मत जुटा पाए हैं और कर रहे हैं.

पैदल भारत यात्री विजय कुमार ने इस प्रेस कांफ्रेंस में यात्रा के सम्पूर्ण विवरण व सम्पूर्ण भारत का रूट के बारे में बताया. उन्होंने बताया कि 26 जनवरी सुबह 11:00 बजे यह यात्रा उनके मछुआ टोली चौराहा स्थित निवास स्थान से शुरू होगी जिसमें उनके साथ दल में उनके सहयोगी भी रहेंगे.

यह भी पढ़ें| पर्यटन मंत्री के बेटे के खिलाफ एफआईआर दर्ज

कार्यक्रम के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि मछुआ टोली, पटना से पैदल चलकर गाँधी मैदान स्थित कारगिल चौक पर अमर शहीद भगत सिंह को श्रद्धांजलि दी जाएगी. उसके बाद नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा, गांधी मैदान के पूर्व एवं दक्षिण छोर पर, लोकनायक जयप्रकाश नारायण की प्रतिमा गांधी मैदान के पश्चिम दक्षिण छोर पर, पटना हाई कोर्ट के पास बाबा साहब भीम राव अंबेडकर की प्रतिमा एवं बांस घाट स्थित देशरत्न डॉ राजेंद्र प्रसाद के समाधि स्थल पर पुष्पांजलि अर्पित की जाएगी. इसके उपरांत गायघाट होते हुए गुरुद्वारा , पटना साहिब में मत्था टेकेंगे और यहीं पर रात्रि विश्राम भी होगा.

दूसरे दिन यानि 27 जनवरी को सुबह 8:00 बजे गुरुद्वारा, पटना साहिब से यात्रा आगे बढ़ेगी तथा गांधी सेतु से गंगा पार करेंगे. पटना से किशनगंज और किशनगंज से गंगटोक की यात्रा होगी. फिर उत्तर पूर्वी भारत के सभी राज्यों की यात्रा पूर्ण करके कोलकाता होते हुए पूरे देश के गांवों, शहरों एवं राज्यों की राजधानी तक पैदल यात्रा की जाएगी. पूरे देश के भ्रमण के उपरांत लखनऊ, अयोध्या होते हुए पटना वापस पटना लौटेंगे.

विजय ने मीडिया को बताया कि इस पैदल भारत यात्रा का परिणाम क्या होगा, यह तो यात्रा पूरी होने के बाद ही पता चलेगा. उन्होंने ईश्वर से प्रार्थना की कि जिस उद्देश्य के लिए यह यात्रा शुरू की जा रही हैं, उसमें सफलता मिले.