एम्बुलेंस में डीजल नहीं, दो घंटे तड़पता रहा मरीज, परिजनों ने काटा बवाल

कोइलवर / भोजपुर (TBN – आमोद कुमार की रिपोर्ट)| कोइलवर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत एम्बुलेंस में डीजल न होने पर मरीज के परिजनों ने घंटों बवाल काटा. मरीज की स्थिति बिगड़ते देख मरीज के परिजन दो घण्टे तक हंगामा करते रहे. दो घण्टे बाद जब पुलिस पहुंची तो उन्हें समझा बुझाकर मरीज को बेहतर इलाज के लिए पटना भेजा गया.

मिली जानकारी के अनुसार प्रखण्ड क्षेत्र के जमालपुर निवासी दारा सिंह अपने पचहत्तर वर्षीय मां शांति देवी का इलाज कराने कोइलवर अस्पताल आये थे. ड्यूटी में मौजूद चिकित्सक ने उनकी मां को प्राथमिक उपचार कर बेहतर इलाज हेतु पटना रेफर कर दिया. जिसके बाद मरीज के परिजनो ने अस्पताल में लगे एम्बुलेंस की सेवा लेने के लिए मरीज को एम्बुलेंस में लाद दिया.

मरीज को एम्बुलेंस में लादने के बाद एम्बुलेंस चालक ने एम्बुलेंस में डीजल नहीं होने की बात मरीज के परिजनों से कहकर अपना पल्ला झाड़ना चाहा. इतना सुनना था कि मरीज के परिजन बेकाबू हो गए व जमकर बवाल काटा.

मामले को बिगड़ते देख अस्पताल प्रबन्धक ने पुलिस को सूचना दी. मौके पर पुलिस पहुंच समझा-बुझा कर मामले को शांत कराया व मरीज को आरा भेजा. इस मामले की जानकारी अधिकारियों तक पहुंची तो खलबली मच गई. हालांकि एंबुलेंस का ठेका प्राइवेट कंपनी पर है.

Also Read| बाढ़: कचरे में धमाका, युवक बुरी तरह घायल, पीएमसीएच रेफ़र

गौरतलब हो कि दुर्घटनास्थल से घायलों और गांवों, शहर से प्रसव पीड़िता को उपचार के लिए अस्पताल लाने में एंबुलेंस का सहारा लिया जाता है. नागरिकों के लिए एंबुलेंस सेवा मुफ्त है.बाढ़: कचरे में धमाका, युवक बुरी तरह घायल, पीएमसीएच रेफ़र