तेजप्रताप का पटना इस्कॉन मंदिर प्रबंधन पर गंभीर आरोप, कहा महिलाओं व बच्चों का हो रहा शोषण

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| आरजेडी विधायक तेजप्रताप यादव ने पटना इस्कॉन मंदिर प्रबंधन पर बहुत ही गंभीर आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है कि यहां महिलाओं का शोषण किया जा रहा है तथा इस मंदिर को बर्बाद किया जा रहा है. तेज प्रताप ने यह बात अपने “सेकेंड लालू तेजप्रताप यादव” फेसबुक पेज में लाइव वीडियो में कही हैं.

लालू के बड़े बेटे और कृष्ण भक्त तेजप्रताप यादव ने अपने आरोप के पक्ष मे कहा है कि उनके पास आरोप के पक्के सबूत हैं और वे जल्द लोगों के सामने लाएंगे. इस बारे में उन्होंने कहा कि मंदिर में आठ साल के बच्चे के साथ कांड हुआ है जिसके सबूत उनके पास हैं. उन्होंने कहा कि पापियों का सबूत मैं लोगों के सामने जल्द लाऊंगा.

Also Read| पटना: फिर गोली मारकर दो की हत्या, मामला भूमि-विवाद का

तेजप्रताप ने इस्कॉन मंदिर घूमने के बाद कहा कि एक तरफ जहां पुरी दुनिया में कृष्ण के जन्म दिन के छठे दिन उनका छठिआर मनाया जा रहा है, वहीं पटना के इस्कॉन मंदिर में कोई आयोजन नहीं हो रहा है. उन्होंने कहा कि ब्रज में कृष्ण भगवान का छठिआर धूमधाम से मनाया जा रहा है और भगवान को 56 तरह के भोग लगाए जा रहे हैं.

राबड़ी देवी और लालू प्रसाद ने दिलवाई थी जमीन

उन्होंने कहा कि वैसे तो इस मंदिर के बारे में बताते हुए मुझे शर्म आ रही है, लेकिन इस मंदिर के निर्माण के लिए मेरी मां राबड़ी देवी और पिता लालू प्रसाद ने इस्कॉन पटना को जमीन दिलवाई थी. उन्होंने कहा कि यदुवंशी भाई और कृष्ण के भक्तों के लिए यह दुखद है तथा यह सब देखकर मेरी आंखों से आंसू निकल पड़े.

लिया पटना इस्कॉन के चार लोगों का नाम

फेसबुक लाइव में तेजप्रताप ने मंदिर से जुड़े चार लोगों का नाम लेते हुए कहा कि ये लोग मंदिर को बर्बाद कर रहे हैं. तेज ने पटना इस्कॉन मंदिर के प्रेसीडेंड कृष्ण कृपा दास, भक्त हरिकेशव दास, हरिप्रेम दास और प्रमोद का नाम लिया. उन्होंने कहा कि इन्हों लोगों ने दुर्भाग्यपूर्ण हरकत की है.

तेजप्रताप ने आरोप लगाते हुए कहा कि पटना इस्कॉन मंदिर 15 सालों में भी पूरा बन नहीं पाया है और यही चार लोग इस मंदिर में काम नहीं होने दे रहे हैं.

इस्कॉन प्रबंधन ने नकारा आरोप

तेजप्रताप के आरोपों पर पटना इस्कॉन मंदिर प्रबंधन ने कहा है कि तेज प्रताप यादव के आरोप बेबुनियाद हैं. इस्कॉन मंदिर के अध्यक्ष कृष्ण कृपा दास ने कहा कि मंदिर की जमीन हावड़ा मोटर्स से खरीदी गई है. उन्होंने भगवान कृष्ण के छठिआर न मनाने के आरोप पर कहा कि इस मंदिर में छठियार मनाने की परंपरा नहीं है. संप्रति तौर पर दास ने कहा कि तेजप्रताप यादव क्यों आरोप लगा रहे हैं, वह हमलोग नहीं जानते.