ड्यूटी पर सचिवालय कर्मी की संदेहास्पद स्थिति में मौत, यूडी केस दर्ज

tbn death of secretariate employee in suspicous situation

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| राजधानी पटना के मुख्य सचिवालय में मंगलवार को राजस्व और भूमि सुधार विभाग में कार्यरत एक कर्मी की अचानक मौत हो गई . खबरों के अनुसार 50 वर्षीय मृतक कर्मी का नाम धर्मेंद्र बहादुर था जिसे फेफड़े की बीमारी थी. मृतक के सहकर्मियों ने बताया कि मंगलवार को ऑफिस आने के बाद धर्मेन्द्र अपनी कुर्सी पर नहीं बैठे और सीधे टॉयलेट चले गए थे.

टॉयलेट शीट पर पड़े थे मृत

जब बहुत देर तक धर्मेन्द्र वापस नहीं आए तो उनके सहकर्मियों ने खोजबीन शुरू कर दी. उनके टॉयलेट में होने का अंदेशा लगने पर सभी वहां पहुंचे. सबों ने बंद टॉयलेट के बाहर से आवाज लगाई. इसके बावजूद जब टॉयलेट का दरवाजा नहीं खुला तो कर्मियों ने दरवाजा तोड़ दिया. दरवाजा टूटने पर सबके होश उड़ गए. टॉयलेट की शीट पर धमेंद्र बहादुर मृत पड़े हुए थे तथा उनका शव एक तरफ लुढ़का हुआ था.

यूडी केस दर्ज

कर्मी की मौत के बाद पूरे सचिवालय में कोहराम मच गया तथा सचिवालय कर्मियों की भीड़ मौके पर जुट गई. कर्मियों ने वरीय अधिकारियों को घटना की सूचना दी. सूचना पाकर विभाग के अधिकारी और सचिवालय थाना पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. इस मामले में यूडी केस दर्ज की गई है.

आप यह भी पढ़ेंनीतीश कैबिनेट का फैसला, कॉन्‍ट्रैक्‍ट कर्मियों को सरकारी नौकरी की नियुक्ति में वेटेज

प्राप्त सूचना के अनुसार मृतक मूल रूप से सहरसा के रहने वाले थे जिन्हें अनुकंपा पर नौकरी मिली थी. राजधानी पटना के राजवंशी नगर में वे अपनी पत्नी और बच्चे के साथ रहते थे. फेफड़े की बीमारी से ग्रस्त धर्मेन्द्र का फेफड़ा 50 प्रतिशत ही काम कर रहा था और सांस फूलती थी. साथ ही, उनको डायबिटीज की भी बीमारी थी.
(इनपुट-एबीपी भी)