सुशांत की दो बहनें CBI जांच के दायरे में, एम्स के फॉरेंसिक पैनल ने सौंपी रिपोर्ट

नई दिल्ली / पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | सुशांत सिंह मामले में सीबीआई को जांच के दौरान मिले कुछ तथ्यों के आधार पर सुशांत की दो बहनें जांच के दायरे में आ गई हैं. साथ ही सुशांत के आईपीएस जीजा और दिल्ली के एक डॉक्टर से भी सीबीआई पूछताछ करेगी.

बता दें कि सीबीआई को अभी तक की जांच के दौरान ऐसा कोई भी सबूत नहीं मिला है जिससे ये पता चले कि सुशांत की हत्या हुई थी. इसलिए सीबीआई के सामने अब भी यह सवाल खड़ा है कि आखिर सुशांत सिंह की मौत का जिम्मेवार कौन है.

एम्स के फॉरेंसिक पैनल ने सौंपी रिपोर्ट

इधर सोमवार देर शाम एम्स के फॉरेंसिक पैनल ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर अपने निष्कर्ष सीबीआई को सौंप दिए हैं. केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) के अनुरोध पर डॉक्टर सुधीर गुप्ता की अध्यक्षता में एक फॉरेंसिक पैनल का गठन किया गया था, जिसने सुशांत की ऑटोप्सी और विसरा रिपोर्ट की जांच की.

एम्स फॉरेंसिक पैनल की रिपोर्ट आने के बाद सीबीआई आगे की जांच शुरू करने जा रही है. वैसे सीबीआई सूत्रों के अनुसार एम्स की फोरेसिंक रिपोर्ट से कुछ खास हासिल होने वाला नहीं है.

बताया जा रहा है कि अभी तक सीबीआई को ऐसा कोई भी सूत्र नहीं मिला है जिससे यह कहा जा सके कि सुशांत की हत्या की गई थी. इसलिए अब सीबीआई ने अपना फोकस इस बात पर कर लिया है कि “सुशांत की मौत का जिम्मेदार कौन है”.

अब तक की जांच के दौरान सीबीआई को मिले तथ्यों के आधार पर सुशांत की पूर्व गर्लफ्रेंड रिया और सुशांत का परिवार सीबीआई की जांच के दायरे में आ गया है. सीबीआई के एक उच्च अधिकारी के मुताबिक, चूंकि इस मामले में हत्या का कोई सबूत नहीं मिल है, इसलिए अब सीबीआई रिया और सुशांत के परिवार पर फोकस कर यह पता लगाएगी कि सुशांत की मौत का जिम्मेदार कौन है – कोई एक या दोनों. वैसे भी रिया और सुशांत का परिवार, दोनों के खिलाफ विभिन्न आपराधिक धाराओं के तहत पुलिस की एफआईआर भी है. एक एफआईआर रिया के खिलाफ है, जिसमें 15 करोड़ रुपये तथा आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप है. दूसरी एफआईआर सुशांत के परिजनों के खिलाफ है.

सीबीआई सूत्रों के अनुसार, अब तक की जांच के दौरान सीबीआई को पांच से ज्यादा ऐसे तथ्य मिले हैं, जिनसे सुशांत का परिवार पूरी तरह से जांच दायरे में आ गया है. ये तथ्य हैं –

> सुशांत की बहन प्रियंका की चैट,
> मेरा दोस्त एक मशहूर डॉक्टर है, वह तुम्हारे संबंध मुंबई के अच्छे डॉक्टरों से करा देगा, सब गोपनीय रहेगा चिंता मत करो.
> यदि उसे डिप्रेशन (Anxiety) अटैक पड़ता है तो यह फला दवाई ले ले.
> चैट के अलावा ओपी सिंह ने सिद्धार्थ पिठानी को जुलाई 2020 में फोन करके कहा कि रिया के बारे में झूठी जानकारी बिहार पुलिस को दें.
> जितने भी बैंक खाते हैं, उन बैंक खातों में सुशांत की बहने ही नॉमिनी हैं.

इसके साथ सीबीआई राममनोहर लोहिया अस्पताल के डॉ तरूण कुमार से भी पूछताछ करेगी कि किस आधार पर उन्होंने सुशांत के लिए दवाईयां लिखी थीं. सीबीआई के उच्च अधिकारी के मुताबिक सीबीआई इस मामले में नियम के तहत जांच कर रही है. सीबीआई सूत्रों के मुताबिक, चूंकि जांच अब ‘आत्महत्या के लिए किसने उकसाया’ – इसपर फोकस होने जा रही है, ऐसे में फिलहाल किसी को भी क्लीन चिट नहीं दी जा सकती.

Leave a Reply

Your email address will not be published.