आपको भगवान को जवाब देना ही होगा – अफजल अमानुल्लाह

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार कैडर के रिटायर्ड आईएएस अफजल अमानुल्लाह में एक वीडियो पर जारी कर बिहार के स्वास्थ्य विभाग को रगड़ने के साथ साथ नसीहत दी है. वीडियो में उन्होंने खुलकर विभाग में व्याप्त गड़बड़ियों को सामने रखा है तथा नसीहत दी है कि अगर वह ठीक ढंग से काम करें तो बिहार में व्याप्त कोरोनावायरस के आतंक को एक हफ्ते में कम किया जा सकता है.

उन्होंने कहा कि आज समूचे बिहार में हर घर या तो कोरोना से प्रभावित है या नहीं तो इससे आतंकित है. लोगों को यह पता नहीं चल रहा कि वे कहां जाए या किस से सलाह लें. अगर उन्हें कुछ हो गया है तो वे किससे संपर्क करें.

रिटायर्ड आईएएस ने कहा कि जनवरी से लेकर आज तक बिहार में कोई खास काम नहीं हुआ है. यहां अस्पतालों की व्यवस्था खराब है. उन्होंने कहा कि पिछले 6 महीनों में जो हुआ उसको भूल कर आगे के लिए हमें एक नया आयाम स्थापित करना होगा ताकि कोरोना की रोकथाम हो सके, लोगों के बीच का दहशत कम हो सके, लोगों की जान बच सके.

उन्होंने स्वास्थ्य विभाग से अपील की वे उनके इन 8 बातों पर ध्यान दें –

  1. वे लोगों को सच बताएं क्योंकि लोग मूर्ख नहीं हैं.
  2. विभाग का एक अधिकारी रोज मीडिया के सामने आकर सरकार द्वारा किए जा रहे कामों के बारे में जनता को बताएं.
  3. विभाग अखबार, टेलीविजन तथा अन्य माध्यमों से लोगों को कोविड-19 संक्रमण से बचने के उपाय बताए.
  4. हर जिले में 10 से 15 डॉक्टर आईडेंटिफाई करके उन्हें 1 दिन की ट्रेनिंग दी जानी चाहिए. इन डॉक्टरों का सिर्फ यह काम रहेगा कि वे उस जिले के लोगों को फोन पर कोरोना से संबंधित सवालों का जवाब दें और उन्हें सलाह दें.
  5. विभाग को कोविड-19 के टेस्ट की संख्या को बढ़ाना पड़ेगा. जिलों में रोज कम-से-कम 1000-1500 सौ टेस्ट करवाना ही होगा और पटना में रोज 50000 टेस्ट करवाना चाहिए.
  6. स्वास्थ्य विभाग को दूसरे राज्यों की तरह हर जगह छोटे-छोटे अस्पताल बना देना चाहिए जहां की कोविड-19 जो का इलाज हो सके. इसके लिए वे दूसरे राज्यों से सलाह ले सकते हैं.
  7. डॉक्टर, नर्स तथा पैरामेडिकल स्टाफों को समय पर वेतन देना चाहिए. अमानुल्लाह ने कहा कि विभाग द्वारा वेतन के साथ साथ इनाम का प्रॉमिस पूरा करना चाहिय. उन लोगों से किया गया वादा अभी तक क्यों नहीं पूरा गया है. अमानुल्लाह से विभाग को ने अपने डॉक्टर, नर्स तथा पैरामेडिकल स्टाफ से झूठा प्रॉमिस करने के लिए फटकार लगाई.
  8. विभाग उन लोगों से प्लाज्मा डोनेट करवाएं जो कोविड-19 को हराकर ठीक हो चुके हैं और इसके लिए वह हर एक डोनर को ₹5000 दे. इससे लोग प्लाज्मा डोनेट करने के लिए प्रेरित होंगे.

रिटायर्ड आईएएस अफजल अमानुल्लाह ने अपने वीडियो में स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों पर जमकर बरसते दिख रहे हैं. उन्होंने वीडियो में कहा है ‘आपको भगवान को जवाब देना ही होगा’. आइए सुनते हैं अमानुल्लाह ने क्या-क्या कहा –

Advertisements