दुष्कर्म पीड़िता ने लगाए डीजीपी एसके सिंघल पर गंभीर आरोप

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| पटना के नौबतपुर की रहने वाली एक दुष्कर्म पीड़िता ने बिहार के डीजीपी एसके सिंघल (SK Singhal BIhar DGP) पर गंभीर आरोप लगाया है. पीड़िता आज सोमवार को मुख्यमंत्री सचिवालय के संवाद कक्ष में आयोजित जनता दरबार (Janta Darbar) में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar Chief Minister) के सामने ये आरोप लगाए.

पीड़िता ने डीजीपी एसके सिंघल पर गंभीर आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री से कहा, “जब मैं मामले की शिकायत को लकेर डीजीपी से मिली, तो उन्होंने कहा कि लड़कियां रेप के लिए लड़कों को उकसाती हैं.”

बता दें, उस युवती के साथ कुछ दिनों पहले रूपसपुर इलाके के कुछ लोगों ने दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया था. उसके बाद पीड़िता ने इस बारे में संबंधित थाने में मामला दर्ज कराया. लेकिन, पीड़िता के अनुसार, पुलिस ने मामले में कोई कार्यवाई नहीं की. बकौल पीड़िता, थाने में उसने जब भी फोन किया तो वहां के पुलिसकर्मी उसे आईओ से बात करने को कहते थे. लेकिन उनसे बात करने पर भी कोई कार्रवाई नहीं की गई.

यह भी पढ़ें| नए वैरिएन्ट ओमिक्रॉन के असामान्य लक्षण

इसी शिकायत को लेकर पीड़िता सोमवार को नीतिश कुमार के जनता दरबार में पहुंची थी. पीड़िता ने सीएम नीतीश कुमार से कहा, “जब मैं डीजीपी से मिलती हूं वो कहते हैं कि लड़कियां लड़कों को प्रवोक करती हैं.” पीड़िता ने मुख्यमंत्री से कहा कि उसके मामले में कोई अभी तक कार्यवाई नहीं हुई है और ऐसे में उसके पास आत्महत्या करने के अलावे कोई और रास्ता नहीं है.

नीतीश ने की डीजीपी से बात

जनता दरबार में पीड़ित की बात सुनते ही मुख्यमंत्री ने डीजीपी को कॉल लगाया और बात की. उन्होंने डीजीपी एसके सिंघल से कहा कि वो मामले की तुरंत सुनवाई करते हुए उचित कार्रवाई करें. मुख्यमंत्री ने पीड़िता को मामले में कार्यवाई का भरोसा दिया.