रेलवे का ऐतिहासिक कदम- कोरोना के चलते 31 मार्च तक सभी ट्रेनें रद्द

नई दिल्ली (TBN रिपोर्ट) :- कोरोना वायरस के प्रकोप से दुनियभर में हड़कंप सा मच गया है. सरकार के द्वारा की जा रही तमाम कोशिशों के बाद भी कोरोना पर काबू पाने में असमर्थ से नज़र आ रहे हैं. कोरोना महामारी के बढ़ते मामले देखते हुए केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए  कोरोना प्रभावित 75 जिलों को 31 मार्च तक के लिए लॉकडाउन किया. लॉकडाउन के दौरान सिर्फ जरूरी सेवाएं ही मिलेंगी. रेल सर्विस, मेट्रो सर्विस और बस सर्विस इस दौरान बंद रहेगी. यहाँ तक कि भारतीय रेलवे ने 31 मार्च रात 12 बजे तक के लिए सभी ट्रेनें रद्द कर दी हैं. सिर्फ मालगाडी चलेगी. रेलवे की तरफ से कोरोना से बचाव के लिए इस प्रकार का अभूतपूर्व कदम उठाया गया है.

भारतीय रेलवे की ओर से जारी बयान के अनुसार रेलवे ने कहा है  कि “कोविड-19 के संक्रमण को देखते हुए रेलवे ने ये फैसला किया है कि सभी ट्रेनें रद्द की जाएं. हालांकि, सब अर्बन ट्रेनों और कोलकाता मेट्रो रेल की न्यूनतम सेवाएं जो बहुत जरूरी हैं, वह 22 मार्च रात 12 बजे तक जारी रहेंगी”. आगे रेलवे ने कहा है कि “मालगाड़ियां चलती रहेंगी, जिससे देश के तमाम हिस्सों में जरूरी चीजों की आपूर्ति होती रहे और लोगों की किसी चीज की कमी ना हो. रद्द की गई ट्रेनों में जिन यात्रियों ने बुकिंग की थी वह 21 जून 2020 तक अपने पैसे रिफंड ले सकते हैं. यात्रियों को उनके टिकट के पैसे देने के लिए पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं, ताकि यात्रियों को कोई तकलीफ ना उठानी पड़े”.

भारतीय रेलवे के  इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि रेलवे ने कई दिनों के लिए ट्रेनें रद्द कर दी हैं. पीएम मोदी ने भी कल ट्वीट में इस बात का जिक्र किया था कि “ट्रेनों में काफी भीड़ हो रही है”. इसके साथ ही उन्होंने लोगों के यात्रा करने पर सलाह देते हुए लोगों से ये भी कहा था कि “आखिर क्यों जा रहे हैं, जहां पर हैं वहीं पर रहिए”.

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *