मानसून में जलजमाव से निजात दिलाएगी ‘क्विक रीस्पान्स टीम’, हेल्पलाइन नंबर जारी

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| हर साल मानसून के दौरान पटना (Patna) के कई इलाके पानी (Water logging) में डूब जाते हैं. इसी अनुभव से सीख लेते हुए इस बार शहरी विकास विभाग (urban development department) ने मानसूनी बारिश के कारण जलजमाव की स्थिति से निपटने के लिए “क्विक रीस्पान्स टीम” (Quick Response Teams) का गठन किया है.

पटना के सभी 75 वार्डों में 19 क्विक रिस्पांस टीमें गठित की गई हैं. इन टीमों के सदस्यों को 24 घंटे वार्डों पर नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं.

शहरी विकास विभाग का दावा है कि अगर किसी इलाके में पानी जमा हो जाता है तो उसे चंद घंटों में हटा लिया जाएगा. लोगों की मदद के लिए विभाग ने एक टोल फ्री नंबर भी जारी किया है.

विभाग के हेल्पलाइन नंबर 155304 पर कॉल कर कोई भी मदद ले सकता है. जलजमाव की स्थिति में क्विक रिस्पांस टीम 15 मिनट के भीतर वहां पहुंचकर जलजमाव से निजात दिलाने का काम करेगी.

सम्प हाउस को 24 घंटे चलाने के निर्देश

मानसूनी बारिश को देखते हुए पटना के सभी 75 वार्डों में 24 घंटे सम्प हाउस चलाने के निर्देश दिए गए हैं. पटना में सम्प हाउस बनाए गए हैं जिनमें स्थायी और अस्थायी सम्प हाउस काम कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें| कैप्टन मोनिका खन्ना, जिसने बचाई 185 यात्रियों की जान

शहरी विकास विभाग और त्वरित प्रतिक्रिया टीम दोनों ने ट्रायल के माध्यम से सम्प हाउस का परीक्षण किया. क्विक रिस्पांस टीम जून से सितंबर तक लगातार काम करेगी.

मौसम विभाग अलर्ट

इधर, पटना समेत बिहार के कई जिलों में बारिश को लेकर मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है. पटना, गया, नालंदा, नवादा, शेखपुरा, गोपालगंज, सारण, आरा, बक्सर, सासाराम, भभुआ, औरंगाबाद और अरवल में बारिश को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. इन जिलों में बारिश के साथ गरज और बिजली गिरने की चेतावनी दी गई है.