सदर अस्पताल में स्वाथ्य कर्मियों का प्रदर्शन

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | रविवार को कटिहार के सदर अस्पताल में संविदा पर कार्यरत स्वास्थ्य कर्मियों की अनिश्चितकाल हड़ताल आज सोमवार को भी जारी रही.

बता दें कि 23 अगस्त रविवार को सदर अस्पताल में संविदा पर कार्यरत स्वास्थ्य कर्मी अनिश्चितकाल हड़ताल पर चले गए थे. इसके बाद आज भी उनका प्रदर्शन जारी रहा. स्वास्थ्य कर्मियों का कहना है कि देश इस समय कोरोना संकट से जूझ रहा है. ऐसे समय में सभी संविदा पर बहाल कर्मी जान जोखिम में डालकर लगातार 24 घंटा ड्यूटी कर रहे हैं. ईमानदारी पूर्वक कार्य करने पर भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा ना केवल कर्मियों की उपेक्षा की जा रही है बल्कि मामूली गलती पर उसे आधार बनाकर कार्यवाही करने का भी कार्य कर रही है.

स्वास्थ्य कर्मियों की 17 सूत्री मांगों में से सेवाकाल के दौरान आकस्मिक मृत्यु होने की स्थिति में उनके आश्रितों को 25 लाख रुपया क्षतिपूर्ति के रूप में देने का मुख्य मांग है.

आज सोमवार को सदर अस्पताल परिसर में जिले के सभी संविदा कर्मी पहुंचकर सिविल सर्जन कार्यालय के समक्ष आक्रोश प्रदर्शन का साथ डोर टू डोर जाने वाले कोरोना जांच वाहनों को भी रोक दिया है. संघ की प्रवक्ता कल्पना कुमारी ने कहा कि ‘समान काम सामान वेतन’ को लेकर यह प्रदर्शन किया जा रहा है. इसके अलावा उनकी 17 सूत्री माँगे हैं जिनमें प्रमुख मांगों में – सभी संविदा कर्मी को नियमित किया जाना, समय पर वेतन समेत कई प्रमुख मांगे शामिल है.

उन्होंने कहा कि इस कोरोना काल में भी अपनी जान जोखिम में डालकर हम सभी संविदाकर्मी काम कर रहे थे. लेकिन अब जबतक उनकी मांगे पूरी नहीं होगी तब तक यह अनिश्चितकालीन हड़ताल और विरोध प्रदर्शन जारी रहेगा.