अनलॉक 5.0 – जानिये किन किन चीज़ों पर मिलेगी छूट और कहाँ बंद रहेगा जारी

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | कोरोना की वजह से लगे लॉकडाउन को अब चरणबद्ध तरीके से खोला जा रहा है. इसी के मुताबिक दो दिन बाद यानि 30 सितम्बर को अनलॉक-4 ख़त्म हो रहा है और 1 अक्टूबर से अनलॉक 5.0 शुरू होगा. ऐसे में माना जा रहा है कि केंद्र सरकार इस अनलॉक 5.0 के जल्द ही दिशानिर्देश जारी कर सकती है. उम्मीद है कि अनलॉक-5 में और कई नई छूट दी जाएंगी. ऐसे में चलिए जान लेते हैं कि संभवता क्या-क्या छूट केंद्र सरकार की ओर से अनलॉक-5 में दी जा सकती हैं.

गृह मंत्रालय द्वारा रेस्तरा, मॉल, सैलून और जिम खोले जाने के बाद अब माना जा रहा है कि 1 अक्टूबर से सामाजिक दूरी के नियमों का पालन कराने और अधिक आर्थिक गतिविधियों की अनुमति दी जायेगी.

आपको बता दें हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी ने राज्यों से आग्रह किया था कि वह कन्टेनमेंट जोन और लॉकडाउन का पुनर्मूल्यांकन करें, जिससे कोरोना फैलने से रुके. लेकिन इसकी वजह से आर्थिक गतिविधियों को समस्याओं का सामना नहीं करना चाहिए.

ऐसा भी माना जा रहा है कि केंद्र सरकार 1 अक्टूबर से सिनेमा हॉल भी खोलने की अनुमति दे सकती है. अगस्त में सूचना और प्रसारण मंत्रालय के सचिव अमित खरे ने MHA को मूवी थिएटर के लिए बैठक की व्यवस्था का सुझाव दिया था. अमित खरे का सुझाव था कि सोशल डिस्टन्सिंग को बनाये रखने के लिये पहली और अगली अल्टरनेटिव सीटें खाली रहेंगी. वैसे हॉल में ही पश्चिम बंगाल ने 50% ऑक्यूपेंसी के साथ सिनेमा घरों को 1 अक्टूबर से खोलने की अनुमति दे दी है.

पर्यटन सेक्टर को लेकर और छूट दी जा सकती है. कोरोना वायरस के कारण पर्यटन सेक्टर सबसे ज्यादा प्रभावित सेक्टरों में से एक है क्योंकि महामारी के कारण लागू लॉकडाउन में लोगों का घूमना-फिरना बंद था. लेकिन, अब उम्मीद की जा रही है कि अनलॉक-5 में पर्यटन क्षेत्र में और ज्यादा छूट दी जाएगी, जिससे यह सेक्टर फिर से खड़ा हो पाए. कुछ दिन पहले ही उत्तराखंड में पर्यटकों को बिना कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट के राज्य में आने की अनुमति दी थी.

21 सितंबर से देशभर के कई स्कूलों ने कक्षा 9-12 के छात्रों के लिए अपनी गतिविधियों को फिर से शुरू किया और आज यानि 28 सितम्बर से बिहार के भी अधिकांश सरकारी एवं निजी विद्यालयों को खोलने का शिक्षा विभाग ने निर्णय लिया है. यह उम्मीद की जा रही है कि प्राथमिक कक्षाएं कुछ और हफ्तों तक बंद रहेंगी. हालांकि, आपको बता दें कि विश्वविद्यालयों और कॉलेजों ने पहले ही प्रवेश परीक्षा लेनी शुरू कर दी है और नए शैक्षणिक वर्ष के लिए ऑनलाइन कक्षाओं के माध्यम से पढ़ाई शुरू करने की तैयार है.