Big NewsBreakingकाम की खबर

पीएम ने दिया रक्षाबंधन का तोहफा, एलपीजी की कीमत 200 रुपये घटी

नई दिल्ली (TBN – The Bihar Now डेस्क)| केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर (Union Minister Anurag Thakur) ने मंगलवार को घोषणा की कि घरेलू उपयोग के लिए तरलीकृत पेट्रोलियम गैस (LPG) सिलेंडर की कीमत सभी उपयोगकर्ताओं के लिए 200 रुपये प्रति सिलेंडर कम कर दी गई है. इससे 14.2 किलोग्राम के रसोई गैस सिलेंडर की कीमत में 18 प्रतिशत की कमी आई है.

अनुराग ठाकुर ने कहा, “घरेलू उपयोग के लिए एलपीजी गैस सिलेंडर की कीमतों में प्रत्येक उपयोगकर्ता के लिए 200 रुपये प्रति सिलेंडर की कमी की गई है.”

रसोई गैस की कीमतों में कटौती ऐसे समय में हुई है जब देश उच्च मुद्रास्फीति से जूझ रहा है. इस साल महत्वपूर्ण राज्य चुनावों और 2024 में आम चुनाव से पहले सरकार के फैसले से भारत में लाखों कम आय वाले परिवारों को लाभ होगा.

ध्यान देने की बात है कि सरकार को बढ़ी हुई सब्सिडी के लिए अतिरिक्त 4,000 करोड़ रुपये खर्च करने होंगे, जो चालू वित्तीय वर्ष के लिए बजट में निर्धारित 7,600 करोड़ रुपये से अधिक है.

दिल्ली में 14.2 किलोग्राम वाले एलपीजी सिलेंडर की कीमत अब 1,103 रुपये से घटकर 903 रुपये हो जाएगी. इसी तरह, मुंबई में एलपीजी सिलेंडर जिसकी कीमत अभी 1,102.50 रुपये है, वह बुधवार से 902.50 रुपये का हो जाएगा. पटना में इसकी कीमत 1201 रुपये से घटकर 1001 रुपये हो जाएगी.

उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को दोहरा लाभ

जहां घरेलू एलपीजी सिलेंडर की कीमत में 200 रुपये की कटौती की गई है, वहीं सरकार की उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को अब प्रति सिलेंडर 400 रुपये की कटौती मिलेगी. इसका मतलब है कि अतिरिक्त सब्सिडी के बाद अब उज्ज्वला लाभार्थियों के लिए दिल्ली में एलपीजी सिलेंडर की कीमत 703 रुपये और मुंबई में 702.50 रुपये होगी.

अनुराग ठाकुर ने कहा, “प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को पहले से ही 200 रुपये की सब्सिडी मिल रही है, लेकिन दर में कमी से उन्हें भी फायदा होगा. इसका मतलब है कि ‘प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना’ (Pradhan Mantri Ujjwala Yojana) के लाभार्थियों के लिए दर में 400 रुपये की कटौती होगी.”

घोषणा करते समय ठाकुर ने कहा कि 2014 के बाद से प्रधानमंत्री ने महिलाओं और उनके सशक्तिकरण के समर्थन में लगातार निर्णय लिए हैं और कहा कि सरकार की पीएमयूवाई के तहत 9.6 करोड़ महिलाओं को लाभ हुआ है. “2014 से पीएम मोदी महिलाओं और उनके सशक्तिकरण के पक्ष में निर्णय ले रहे हैं. उज्ज्वला योजना से 9.6 करोड़ से अधिक महिलाओं को लाभ हुआ है.”

75 लाख महिलाओं को पीएम का तोहफा

अनुराग ठाकुर ने आगे कहा कि पीएमयूवाई के तहत 75 लाख नए गैस कनेक्शन मुफ्त लगाए जाएंगे. उन्होंने कहा, ”ओणम के मौके पर और रक्षा बंधन की पूर्व संध्या पर मुझे यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि पीएम ने महिलाओं को बड़ा तोहफा दिया है और 75 लाख महिलाओं को उज्ज्वला योजना के तहत मुफ्त गैस कनेक्शन मिलेंगे.”

क्या है प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना

मई 2016 में शुरू की गई, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PMUY) सरकार की एक महत्वपूर्ण सामाजिक कल्याण पहल है. इसका प्राथमिक लक्ष्य आर्थिक रूप से वंचित महिलाओं, विशेषकर गरीबी सीमा से नीचे रहने वाली महिलाओं को स्वच्छ खाना पकाने के ईंधन की पहुंच प्रदान करना है.

उज्ज्वला योजना का मुख्य उद्देश्य लकड़ी, कोयला और बायोमास जैसे ठोस ईंधन पर निर्भर पारंपरिक खाना पकाने की तकनीकों को तरलीकृत पेट्रोलियम गैस (एलपीजी) के सुरक्षित और स्वच्छ विकल्प के साथ बदलना है.