पीएम ने किया सभी को फ्री वैक्‍सीन का ऐलान

नई दिल्ली (TBN – The Bihar Now डेस्क)| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऐलान किया है कि देश के सभी लोगों को सरकार मुफ़्त में कोरोना का टीका लगाएगी. हालांकि प्राइवेट हॉस्पिटल्स इसके लिए शुल्क वसूलेगी.

पीएम सोमवार शाम देश की जनता को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कोरोना महामारी (Corona Pandemic) में जान गंवाने वाले लोगों के प्रति शोक व्यक्त किया.

उन्होंने इस महामारी को पिछले सौ वर्षों की सबसे बड़ी आपदा बताते हुए, इसे एक ऐसी महामारी के रूप में चिन्हित किया जिसे आधुनिक दुनिया द्वारा न तो देखा गया और न ही अनुभव किया गया. प्रधानमंत्री ने कहा कि देश ने इस महामारी से कई मोर्चों पर लड़ाई लड़ी है.

आप यह भी पढ़ेंप्राकृतिक प्रतिरक्षा बूस्टर औषधीय बूस्टर से ज्यादा लाभकारी – डॉ. जितेंद्र सिंह

टीकाकरण की रणनीति पर पुनर्विचार करने और 1 मई से पहले की व्यवस्था को वापस लाने की कई राज्यों की मांग को देखते हुए प्रधानमंत्री ने घोषणा की कि राज्यों के जिम्मे जो 25 प्रतिशत टीकाकरण था, उसे अब भारत सरकार द्वारा करने का निर्णय लिया गया है. इस निर्णय को दो सप्ताह में अमल में ला दिया जाएगा. दो सप्ताह में केन्द्र और राज्य नए दिशानिर्देशों के मुताबिक जरूरी तैयारियां करेंगे.

अफवाह फैलाने वालों से सावधान रहने को कहा

प्रधानमंत्री ने टीकाकरण के खिलाफ अफवाह फैलाने वालों के बारे में आगाह किया. प्रधानमंत्री ने कहा कि ऐसे तत्व लोगों की जिंदगी से खेल रहे हैं और इनके खिलाफ सतर्क रहने की जरूरत है.

प्रधानमंत्री ने आगे घोषणा की कि आगामी 21 जून से, भारत सरकार 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी भारतीय नागरिकों को मुफ्त टीका प्रदान करेगी. भारत सरकार टीके के उत्पादकों के कुल उत्पादन का 75 प्रतिशत खरीदेगी और राज्यों को मुफ्त मुहैया कराएगी. किसी भी राज्य सरकार को टीकों के लिए कुछ भी खर्च नहीं करना होगा.

केंद्र-राज्‍य की रस्‍साकशी खत्‍म

मोदी ने बताया कि निजी अस्पतालों द्वारा 25 प्रतिशत टीकों की सीधी खरीद की व्यवस्था जारी रहेगी. राज्य सरकारें इस बात की निगरानी करेंगी कि निजी अस्पतालों द्वारा टीकों की निर्धारित कीमत पर केवल 150 रुपये का सर्विस चार्ज लिया जाए. यह ऐलान ऐसे समय हुआ है जब कई राज्‍य अपने-अपने यहां वैक्‍सीन की किल्‍लत की बात कह रहे हैं. इसके लिए वे केंद्र सरकार को दोषी ठहरा रहे हैं.

एक अन्य बड़ी घोषणा के तहत, प्रधानमंत्री ने “प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना” को दीपावली तक बढ़ाने का निर्णय सुनाया. अर्थात अब नवंबर’21 तक 80 करोड़ लोगों को हर महीने निर्धारित मात्रा में मुफ्त अनाज मिलेगा. उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के समय सरकार गरीबों के साथ उनकी सभी जरूरतों के लिए उनके दोस्त के रूप में खड़ी है.

इस महामारी की दूसरी लहर के दौरान अप्रैल और मई के महीनों में मेडिकल ऑक्सीजन की मांग में अभूतपूर्व वृद्धि के बारे में बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा इस चुनौती को युद्धस्तर पर निपटा गया. मोदी ने कहा कि भारत के इतिहास में मेडिकल ऑक्सीजन की इतनी मांग पहले कभी नहीं महसूस की गई थी.

अभी तक 23 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन की डोज लग चुकी

प्रधानमंत्री ने कहा कि साफ इरादों, स्पष्ट नीति और निरंतर कड़ी मेहनत के जरिए हमारे वैज्ञानिकों ने अपनी क्षमता साबित करते हुए कोविड के लिए न केवल एक, बल्कि भारत में निर्मित दो टीके लॉन्च किए. उन्होंने बताया कि देश में अभी तक टीके की 23 करोड़ से ज्यादा खुराकें दी जा चुकी हैं.

मोदी ने बताया कि देश में आज सात कंपनियां अलग-अलग तरह के टीके तैयार कर रही हैं. प्रधानमंत्री ने जानकारी दी कि अन्य 3 वैक्सीन का ट्रायल भी चल रहा है. साथ ही बच्चों के लिए भी दो वैक्सीन का ट्रायल जारी है.

नेजल वैक्‍सीन पर र‍िसर्च जारी

उन्‍होंने बताया कि नेजल वैक्‍सीन पर भी रिसर्च हो रही है. इस वैक्‍सीन को सिरिंज से न लेकर नाक में स्प्रे किया जाएगा. अगर टेस्‍ट में कामयाबी मिली तो वैक्सीनेशन की मुह‍िम में और तेजी आएगी.
(सौ:पीआईबी)