प्लूरल्स के उम्मीदवार ने आरजेडी उम्मीदवार पर लगाया धमकी देने का आरोप

दरभंगा (TBN – The Bihar Now डेस्क) | एक तरफ जहां बिहार में विधानसभा चुनाव की सरगर्मी है, वहीं दूसरी ओर उम्मीदवारों को धमकाने की भी बात सामने आ रही है. एक मामला दरभंगा से है जहां प्लूरल्स पार्टी के प्रत्याशी मणिकांत यादव ने राजद विधायक सह प्रत्याशी भोला यादव पर धमकाने का आरोप लगाया है.

दरभंगा जिला के हायाघाट से प्लूरल्स पार्टी के प्रत्याशी मणिकांत यादव ने बताया कि उनका नामांकन रद्द होना एक राजनीतिक साजिश लगती है. मणिकांत ने भोला यादव पर धमकाने का आरोप लगाते हुए कहा कि भोला यादव पहले भी उनके घर आकर चुनाव नहीं लड़ने को कह चुके हैं.

मणिकांत ने आगे बताया कि जब उनका नामांकन रद्द हो गया तो भोला यादव उनसे यह कहा कि अब तुम्हारा नामांकन रद्द हो गया है इसलिए तुम बदमाशी छोड़कर मेरे लिए काम करो, नहीं तो फिर हम तुम्हारे साथ बदमाशी करेंगे. मणिकांत के कहा कि वे भोला यादव की बातों से नहीं डरने वाले हैं और वे आरजेडी उम्मीदवार का साथ कभी नहीं दूंगा.

उधर भोला यादव ने अपनी सफाई में कहा है कि नामांकन रद्द होने के बाद एक प्रत्याशी को दूसरे प्रत्याशी, जिसका नामांकन रद्द हो गया है, का कागजात देखने का अधिकार है. उसी अधिकार से उन्होंने मणिकांत के कागजात देखे हैं. मणिकांत को भोला ने अपना रिश्तेदार बताते हुए कहा कि रिश्तेदार होने के नाते उन्होंने मणिकांत यादव को फोन पर कहा कि चूंकि उनका नामांकन रद्द हो गया है इसलिए अब मेरा साथ दीजिये. भोला ने इसे कहीं से भी धमकी नहीं माना है.

वहीं चुनाव प्रक्रिया में लगे अधिकारी सभी आरोपों को निराधार बताया है. चुनाव अधिकारी विभूति रंजन चौधरी ने कहा कि कहीं कोई गड़बड़ी नहीं हुई है और सभी कुछ नियमानुसार हुआ है. यहां चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों का पालन किया गया है.

बताते चलें कि जिला के हायाघाट विस क्षेत्र में नामांकन स्क्रूटनी के बाद कई प्रत्याशियों के नामांकन रद्द हो गए. इसको लेकर प्रत्याशियों ने आपत्ति जातायी और इसे राजनीति से प्रेरित बताया. साथ ही, कई प्रत्याशियों ने राजद प्रत्याशी भोला यादव पर स्क्रूटनी के समय दूसरे प्रत्याशियों का कागज देखने का आरोप भी लगाया है.