बाढ़ ट्रिपल मर्डर: जाप का एक-दिवसीय धरना, पप्पू यादव ने कहा चैन से नहीं बैठेंगे

बाढ़ (TBN – अखिलेश्वर कुमार सिन्हा की रिपोर्ट)| पिछले शनिवार को बाढ़ शहर में हुए ट्रिपल हत्याकांड के खिलाफ व इसमें संलिप्त अपराधियों की गिरफ़्तारी के लिए जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बाढ़ अनुमंडल मुख्यालय परिसर में धरना दिया. इस धरने की अध्यक्षता पार्टी के बाढ़ जिला कमेटी के अध्यक्ष मनीष कुमार सिन्हा ने की. इस एक दिवसीय धरने में पार्टी सुप्रीमो राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने भी भाग लिया.

धरने के मौके पर पप्पू यादव ने कहा कि बाढ़ अनुमंडल का समूचा क्षेत्र अपराधियों के नियंत्रण में है. उन्होंने कहा कि राज्य में अपराधियों का बोलबाला है.

बता दें, गत शनिवार देर रात शहर के वाजितपुर रोड (Wajitpur road of Barh town) स्थित एक मैंरेज हॉल के पास शादी समारोह में आए पंडारक पूर्वी से निर्वाचित मुखिया प्रियरंजन उर्फ गोरेलाल यादव, पंडारक थाना में पदस्थापित एएसआई राजेश कुमार तथा ममरखाबाद गांव के लालबहादुर नामक व्यक्ति को गोली (newly elected mukhiya of Pandarak East and one ASI of Pandarak police station murdered in Barh Patna) मार दी गई थी. इलाज के दौरान तीनों घायलों की मौत हो गई थी.

पप्पू यादव ने कहा कि इस हत्याकांड में संलिप्त अपराधियों की जब तक गिरफ़्तारी नहीं होगी वे चैन से नहीं बैठेंगे. गिरफ़्तारी के बाद हत्यारों के खिलाफ केस में स्पीडी ट्रायल चलवा कर उन्हें फांसी की सजा दिलवाने का हर संभव प्रयास करेंगे.

धरने के बाद आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में पप्पू यादव ने कहा कि जिस मोकामा को बिहार बदलने की ताकत थी, जो बाढ़ कभी व्यवसायियों की मंडी हुआ करता था, जो टाल पटना बदल सकता था, आज यहां अपराध, अपराधियों और माफियाओं के अलावा किसी चीज का जन्म ही नहीं होता है. उन्होंने पूछा कि आखिर कब इस इलाके को आजादी मिलेगी. उन्होंने इसके लिए सभी राजनीतिक पार्टियों को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि सभी पार्टी अपराधी और माफियाओं का चयन करती है.

पप्पू यादव ने कहा कि सभी राजनीतिक पार्टियों ने यह मान लिया है कि मोकामा, बख्तियारपुर, बाढ़ आदि इलाकों में बगैर अपराधी और माफियाओं के सहयोग के अपनी राजनीतिक नैया को पार नहीं कर सकते हैं. इसके चलते इस इलाके में अपराधियों और माफियाओं आम नागरिकों के शोषण की पूरी आजादी मिली है.

पप्पू यादव ने आरोप लगाया कि नेताओं के दवाब में यहां अपराधियों के खिलाफ स्पीडी ट्रायल नहीं होता है और न ही चार्जशीट दाखिल किया जाता है, जिसके चलते अपराधी बरी हो जाते हैं.

उन्होंने कहा कि राज्य में अपराधियों का मनोबल काफी बढ़ा हुआ है क्योंकि उन्हें नेताओं का संरक्षण प्राप्त है. उन्होंने कहा कि अक्सर देखा जाता है कि नेता या तो अपराधी की गाड़ी में होते हैं या अपराधी नेताओं की गाड़ी में.

पप्पू यादव ने बताया कि हाल ही में एक बालू माफिया के बेटे के जन्मदिन के मौके पर राजधानी के एक बड़े होटल में 95 प्रतिशत नेता, विधायक और सांसद पहुंचे थे. उन्होंने कहा कि जब बालू माफिया, शराब माफिया, टेंडर घोटाला माफियाओं के ही बेटा-बेटी की शादियों में नेता जाएंगे तो अपराधियों का मनोबल ऊँचा ही रहेगा.

उन्होंने मीडिया को बताया इस ट्रिपल हत्याकांड केस में जरूरत पड़ने पर हाईकोर्ट में पीआईएल फाइल करेंगे और स्पीडी ट्रायल की मांग करेंगे.

जाप सुप्रीमो ने कहा कि सरपंच के नेतृत्व में उनकी पार्टी अपराधियों के खिलाफ गांव गांव जाएगी. उन्होंने कहा कि यदि जरूरत पड़ी तो इस केस की अंतिम लड़ाई में वे पंडारक से पटना तक पैदल मार्च करेंगे.

उन्होंने मांग की कि नेता अपराधियों की जांच हाईकोर्ट की मॉनिटरिंग में हो. साथ ही, सभी नेताओं, एमएलए, एमपी की संपत्ति जांच हो.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में पप्पू यादव ने हत्याकांड में मारे गए वार्ड प्रतिनिधि के बेटे को 25000 रुपये की सहायता राशि दिया. उन्होंने मृतक की बेटी की शादी में होने वाले खर्च को भी उठाने का वादा किया.

इस धरना में बाढ़ जिला जाप पार्टी में जाप पार्टी बाढ़ विधानसभा के प्रत्याशी प्रोफेसर श्याम देव नारायण सिंह, बाढ़ जाप पार्टी के जिला अध्यक्ष मनीष कुमार, युवा नेता अजय यादव के अलावा संगठन के मंत्री, अध्यक्ष एवं कार्यकर्ता व आम नागरिकों ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया.