राजधानी का NMCH हुआ पुलिस छावनी में तब्दील

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार में कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है. बढ़ते कोरोना संक्रमितों के मामले काफी चिंताजनक है. साथ ही बिहार में डॉक्टर्स, नर्सेज और वार्ड ब्यॉय की भी काफी कमी है. इसकी वजह से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

इसी बीच 16 अगस्त को खबर आई कि पटना का कोविड अस्पताल NMCH में अस्पताल के वार्ड ब्यॉय को अस्पताल प्रबंधक द्वारा हटा दिया गया है.

इस मामले पर आक्रोशित होकर वार्ड ब्यॉय अस्पताल के गेट पर बैठकर विरोध प्रदर्शन करने लगे. आपको बता दें कि 15 अगस्त को कोरोना वारियर्स के रूप में इन सारे वार्ड ब्यॉय को सम्मानित भी किया गया. लेकिन 16 अगस्त को अस्पताल प्रबंधक द्वारा बिना सूचना दिए ही वार्ड ब्यॉय को कार्य से हटा दिया गया.

प्रदर्शन की सूचना मिलते ही स्थानीय थाना आलमगंज और सिटी अनुमंडलाधिकारी पुलिस बल के साथ मौके पहुँच कर विरोध प्रदर्शन कर रहे वार्ड ब्यॉय को हटाया. इसके बाद पटना का कोविड अस्पताल NMCH, पुलिस छावनी में तब्दील हो गया.

उधर आक्रोशित वार्ड ब्यॉय का कहना था कि उन्होंने कोरोना काल मे निर्भीक होकर अपनी सेवाएं दी है और हमें ऐसे बिना सूचना दिए ही कार्य से हटा दिया गया है.

सिटी अनुमंडलाधिकारी राकेश रौशन ने बताया कि लॉकडाउन में किसी प्रकार का धरना प्रदर्शन करना वंचित है. इसी को लेकर पुलिस बल द्वारा वार्ड बॉय को हटाया गया है. इनकी जो मांगे है उससे भी अस्पताल प्रबंधक को अवगत करा दिया गया है.