नीतीश कैबिनेट का फैसला, कॉन्‍ट्रैक्‍ट कर्मियों को सरकारी नौकरी की नियुक्ति में वेटेज

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक हुई. इस बैठक में कुल 20 एजेंडों पर मुहर लगी. सबसे महत्वपूर्ण फैसला शिक्षा विभाग से संबंधित है. साथ ही सरकार ने ठेके पर बहाल कर्मी को सरकारी नौकरी की नियुक्ति में वेटेज देने का भी फैसला किया है.

मंगलवार को कैबिनेट की इस मीटिंग में लिए गए फैसले में इंटर पास होने पर अविवाहित कन्याओं के लिए प्रोत्साहन राशि की घोषणा की गई है. इसके अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2021-22 से इंटर पास होने पर अविवाहित कन्याओं को सरकार के ओर से 25 हजार और स्नातक या समकक्ष उत्तीर्ण होने पर 50 हजार की आर्थिक सहायता मिलेगी.

इसके अलावा अब राज्य के सभी नगर निकाय क्षेत्रों के अंतर्गत निर्मित सभी पार्कों का अनुरक्षण एवं विकास पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग करेगा.

कैबिनेट की आज की बैठक में निम्नलिखित मुख्य एजेंडों पर भी मुहर लगी –

  • मुख्यमंत्री विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना के तहत 33666 अल्पसंख्यक छात्र-छात्राओं को प्रोत्साहन राशि उपलब्ध कराने पर भी मुहर लगी. इसके हेतु बिहार आकस्मिक निधि से 34 करोड़ अग्रिम की स्वीकृति और व्यय पर भी मुहर लगी है.
  • वहीं, बिहार पुलिस दूरसंचार वितन्तु एवं तकनीकी सेवा नियमावली 2021 को भी मंजूरी दे दी गई है. इससे विभाग में सीधी बहाली का रास्ता साफ हो गया है.
  • उत्पन्न संकट को देखते हुए चीनी मिलों को आर्थिक पैकेज दी गई है. इसके अंतर्गत सत्र 2019- 20 बीच में क्रय किए गए गन्ने पर क्षेत्रीय विकास परिषद कमीशन की दर को – ईख मूल्य के दर का 1.80 फीसद से घटाकर 0.20 फीसद के रूप में पुनः निर्धारित करने की स्वीकृति दे दी है.
  • किशनगंज स्थित पशु चिकित्सक एवं पशु विज्ञान महाविद्यालय में 208 नए पद सृजित किए गए हैं, तो अकादमी और प्रशासनिक पदों की स्वीकृति दी गई.
  • लघु जल संसाधन विभाग के निगम में समायोजित कर्मियों को निगम अवधि में एसीपी का लाभ मिलेगा और निगम अवधि में कार्यरत रहने की सेवा अवधि की गणना भी होगी.
  • कॉन्‍ट्रैक्‍ट कर्मियों के लिए बड़ा फैसला लिया गया है. सरकार ने ठेके पर बहाल कर्मी को सरकारी नौकरी की नियुक्ति में वेटेज देने का भी फैसला किया है. जबकि उनकी नौकरी 60 साल तक की उम्र तक रहेगी.
  • बेल्ट्रान के कर्मी को आउटसोर्सिंग माना जायेगा. यही नहीं, कैबिनेट की बैठक में विभिन्न विभागों में संविदा पर नियोजित कर्मियों की सेवा के संबंध में गठित उच्च स्तरीय समिति की अनुशंसाओं पर अनुमोदन मिला है.

इधर हम पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष एवं बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने कैबिनेट के फैसले पर सीएम नीतीश कुमार को धन्यवाद दिया है.