एसटीईटी (STET) अभ्यर्थियों पर पुलिस ने भांजी लाठी, कई घायल

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| मंगलवार को शिक्षा मंत्री (Education Minister) विजय कुमार चौधरी के आवास का घेराव करने जा रहे हजारों की संख्या में एसटीईटी (STET) अभ्यर्थियों पर पुलिस ने लाठी चार्ज किया. बिहार एसटीईटी-2019 के रिजल्ट में धांधली को लेकर नाराज अभ्यर्थी शिक्षा मंत्री से मिलने जा रहे थे. इस लाठी चार्ज में कई घायल हो गए.

इससे पहले ये अभ्यर्थी शिक्षा मंत्री के आवास जा रहे थे. उन्हें पुलिस ने ईको पार्क के पास रोक लिया. लेकिन उसके बाद ये अभ्यर्थी बेकाबू हो गए जिसके कारण पुलिस ने जमकर लाठियां चलाई.

रिजल्ट पर जारी विवाद

बता दें कि बिहार एसटीईटी-2019 का रिजल्ट आने के बाद से ही इस पर विवाद जारी है. इस रिजल्ट में धांधली का आरोप लगाकर एसटीईटी अभ्यर्थी और छात्र संगठन लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं.

दरअसल बिहार बोर्ड ने रिजल्ट घोषित होने के बाद उत्तीर्ण अभ्यर्थियों की दो श्रेणियां बना दी थी -‘क्वालिफाइड एंड इन मेरिट लिस्ट’ और ‘क्वालिफाइड बट नॉट इन मेरिट लिस्ट’. इसको लेकर काफी हंगामा हुआ था.

बिहार बोर्ड द्वारा जारी की गई मेरिट लिस्ट पर इसलिए भी हंगामा हुआ क्योंकि मेरिट लिस्ट बनाने का काम पूरी तरह नियोजन इकाइयों का होता है. इसके बाद शिक्षा विभाग ने इस मामले का हल निकालने के लिए एक कमिटी बनाई. इस कमिटी द्वारा अपनी रिपोर्ट में एसटीईटी-2019 में उत्तीर्ण सभी अभ्यर्थियों को सातवें चरण के शिक्षक बहाली और उससे आगे की बहाली के लिए योग्य घोषित किया गया है.

प्रदर्शनकारी अभ्यर्थी की मांग है कि जैसे एसटीईटी से पास पहले के अभ्यर्थियों को छठे चरण के नियोजन में शामिल होने का मौका दिया जा रहा है, उसी तरह उन्हें भी नियोजन में शामिल किया जाए.

अभ्यर्थियों के प्रदर्शन के कारण दिन के समय पटना के इको पार्क के पास भीषण जाम लग गया. यातायात भी बुरी तरह बाधित हो गया था. ऐसी स्थिति में पुलिस वहां पहुंच गई और अभ्यर्थियों को आगे बढ़ने से रोका. लेकिन जब वे मानने को तैयार नहीं हुए तो फिर पुलिस ने अभ्यर्थियों पर लाठीचार्ज कर दिया.

नेता प्रतिपक्ष ने सरकार पर बोला हमला

एसटीईटी अभ्यर्थियों पर हुए इस लाठी चार्ज की नेता प्रतिपक्ष ने निंदा की है. तेजस्वी ने कहा कि नीतीश सरकार लाठी वाली सरकार है. यह छात्र-छात्राओं पर लाठीचार्ज करवाती है. उन्होंने कहा कि सरकार छात्रों के खिलाफ तानाशाह रवैया अपना रही है और लाठीचार्ज कर रही है

आप यह भी पढ़ें – पर्यटन मानचित्र पर अब तक नहीं आ पाया बिहार का यह पौराणिक सूर्यमंदिर

उन्होंने कहा कि नीतीश सरकार बेशर्म हो चुकी है और इसका जनता से कोई लेना देना नहीं है. तेजस्वी ने कहा कि अभ्यर्थियों पर लाठीचार्ज काफी बर्बरता से की गई. नीतीश सरकार नौजवानों की भविष्य खराब कर रही है.

शिक्षा मंत्री ने दी प्रतिक्रिया

तेजस्वी यादव के बयानों के बाद शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने अपनी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा कि कुछ लोग एसटीईटी छात्रों को गुमराह कर रहे हैं.

शिक्षा मंत्री ने कहा कि एसटीईटी की परीक्षा पास करने वाले सभी शिक्षक बनने के योग्य हैं. छठी चरण की प्रक्रिया ख़त्म होने के बाद सातवें चरण की प्रक्रिया शुरू होगी और उसमें इन अभ्यर्थियों की नियुक्ति की जायेगी. साथ ही शिक्षा मंत्री ने अभ्यर्थियों से किसी के बहकावे में ना आने की अपील की.