लॉकडाउन 3 मई तक, सप्तपदी है विजय पथ – मोदी

पटना (TBN रिपोर्ट) | पूरे देश में कोरोना संक्रमण को फैलने से बचने के लिए पिछले 21 दिनों से चला आ रहा लॉकडाउन अब 3 मई तक बढ़ा दिया गया है. मंगलवार सुबह 10 बजे पीएम नरेंद्र मोदी ने देश के नाम सम्बोधन में इसका ऐलान किया. इस संदेश में वे लगभग 25 मिनट में 1600 से ज्यादा शब्द बोले.

लॉकडाउन को 14 अप्रैल से आगे बढ़ाने के केंद्र सरकार के किसी ऐलान के पहले ही महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, पंजाब, ओडिशा समेत कई राज्यों में 30 अप्रैल तक लॉकडाउन का ऐलान कर दिया था. पीएम ने कहा कि लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ेगा और गाइडलाइन कल जारी होगी.

प्रधानमंत्री ने कहा, “सारे सुझावों को ध्यान में रखते हुए यह फैसला किया गया है कि लॉकडाउन को अब 3 मई तक बढ़ाना पड़ेगा. कल इस बारे में सरकार की तरफ से विस्तृत गाइडलाइन जारी की जाएगी”. उन्होंने कहा कि कई राज्य तो पहले से ही लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला कर चुके हैं.

प्रधानमंत्री ने कहा कि जिन स्थानों के हॉटस्पॉट में बदलने का खतरा है, वहां कड़ी नजर रखनी होगी. इसलिए अगले एक हफ्ते तक सख्ती और ज्यादा बढ़ाई जाएगी. 20 अप्रैल तक हर कस्बे, हर थाने, हर जिले, हर राज्य को बड़ी बारीकी से परखा जाएगा.

प्रधानमंत्री मोदी के आज के संदेश के कुछ मुख्य बिन्दु ये हैं –

  • भारत में दूसरे चरण में लॉकडाउन 3 मई यानी 19 दिन के लिए बढ़ा
  • इस बार पहले से ज्यादा सख्ती से लागू होगा लॉकडाउन
  • घर से बाहर निकलने के नियम बहुत शख्स होंगे
  • चुनिंदा जगहों पर गरीब लोगों को कुछ शर्तों के साथ छूट दी जाएगी
  • लॉकडाउन को लेकर कल, 15 अप्रैल को गाइडलाइन जारी किए जाएंगे
  • 20 अप्रैल तक हर राज्य को बारीकी से परखा जाएगा
  • जहां नया मामला नहीं होगा वहां 20 अप्रैल से छूट दी जाएगी
  • हॉटस्पॉट की आशंका वाले क्षेत्रों पर निगरानी रखी जाएगी
  • देश में राशन से दवा तक पर्याप्त भंडार मौजूद
  • जिन्हें पुरानी बीमारी है उनका खास खयाल रखना होगा
  • मास्क और सामाजिक दूरी का ध्यान रखना है
  • देशभर में 220 लैब काम कर रही हैं
  • देश में अभी एक लाख से ज्यादा बेड हैं
  • किसी को नौकरी से ना निकाला जाए
  • घर पर बने फेस कवर का इस्तेमाल करें
  • इम्युनिटी बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय के सुझावों को अमल में लाएं
  • आरोग्य सेतु एप जरूर डाउनलोड करें

प्रधानमंत्री ने अपने भाषण के अंत में लॉकडाउन के 7 सूत्र बताएं. उन्होंने कहा कि ये सप्तपदी विजय प्राप्त करने का मार्ग हैं.
पहली बात – अपने घर के बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें। खासकर ऐसे व्यक्ति जिन्हें पुरानी बीमारी हो, उनकी हमें एक्स्ट्रा केयर करनी है. उन्हें कोरोना से बहुत बचाकर रखना है.
दूसरी बात – लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग की लक्ष्मण रेखा का पूरी तरह पालन करें. घर में बने फेस कवर या मास्क का अनिवार्य रूप से उपयोग करें.
तीसरी बात – अपनी इम्युनिटी बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय द्वारा जो निर्देश दिए गए हैं, उनका हम पालन करें. गर्म पानी-काढ़ा का निरंतर सेवन करें.
चौथी बात – कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप जरूर डाउनलोड करें. दूसरों को भी इस ऐप को डाउनलोड करने के लिए प्रेरित करें.
पांचवीं बात – जितना हो सके, उतनी गरीब परिवार की देखरेख करें. उनके भोजन की आवश्यकता पूरी करें.
छठी बात – अपने उद्योग में काम करने वाले लोगों के प्रति संवेदना रखें. उन्हें नौकरी से न निकालें.
सातवीं बात – हमारे सफाईकर्मी, पुलिसकर्मी, डॉक्टर्स का हम सम्मान करें, उनका गौरव करें.