पुलिस का खुलासा, शक्ति मल्लिक की हत्या पैसे के लेन-देन के कारण

पूर्णियाँ (TBN – The Bihar Now डेस्क) | पूर्णियाँ पुलिस ने शक्ति मल्लिक हत्याकांड का 72 घंटे के अंदर उद्भेदन कर लिया है. पुलिस को इस हत्याकांड में कोई राजनीतिक ऐंगल नहीं मिला है. साथ ही पुलिस ने इस कांड के शूटर सहित 6 लोगों को गिरफ्तार भी कर लिया है.

गौरतलब है कि हाल में ही आरजेडी के एक नेता, शक्ति मल्लिक की हत्या के मामले में नेता प्रतिपक्ष और राजद नेता तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव सहित छः लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया गया था. बिहार में बहुत जल्द होने वाले विधानसभा चुनाव के पहले इस मामले को काफी उछला जा रहा है. राजद की विपक्षी पार्टियां तेजस्वी यादव पर जमकर प्रहार कर रही हैं.

बुधवार को तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को एक पत्र लिखा. इस पत्र में उन्होंने लिखा कि शक्ति मल्लिक हत्याकांड मामले में उनके खिलाफ मुख्यमंत्री सीबीआई जांच की सिफारिश करें. तेजस्वी ने कहा कि इस हत्याकांड में झूठा नाम देकर उन्हें बदनाम करने की साजिश की जा रही है क्योंकि वे महागठबंधन की तरफ से मुख्यमंत्री का चेहरा हैं.

इसी बीच एक बड़ी खबर पूर्णियाँ से आई है जिसमें वहाँ के एसपी विशाल शर्मा ने शक्ति मल्लिक हत्याकांड के इस मामले का 72 घंटों में उद्भेदन कर दिया है. इस उद्भेदन में पुलिस को किसी भी प्रकार का राजनीतिक ऐंगल नहीं मिला है.

किसी भी प्रकार का राजनीतिक ऐंगल नहीं

शक्ति मल्लिक हत्याकांड में शामिल शूटर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. इसके साथ अन्य छह अपराधियों को भी पुलिस ने दबोचा है. पुलिस ने इस घटना में उपयोग किये गए 5 कट्टा, तीन कारतूस, 5 मोबाईल, एक चाकू के साथ दो बाइक बरामद किया है. एसपी विशाल शर्मा ने बताया कि शक्ति मल्लिक की हत्या पैसे के लेन-देन के कारण हुई है.

एसपी विशाल शर्मा ने बताया कि मल्लिक की हत्या के बाद हत्यारों को पकड़ने के लिए स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) का गठन किया गया जिसका नेतृत्व पूर्णियाँ के सदर एसडीपीओ आनन्द कुमार पाण्डेय ने किया. घटना में संलिप्त बदमाश अफताब एवं तनबीर अंजुम को 01 देसी पिस्तौल एवं एक मोबाइल फोन के साथ उसके घर से तथा अफताब को घटना में प्रयुक्त एक देसी कट्टा, एक स्मार्टफोन और पिस्टल के साथ गिरफ्तार किया गया. पूछताछ में दोनों बदमाशों ने मामले में अपनी संलिप्तता स्वीकार की. उनकी निशानदेही पर अन्य बदमाशों को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. सभी बदमाशों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.