शराब के नाम पर बिना महिलाकर्मी पुलिस घुसी, दुल्हन के बाथरूम तक की हो रही जांच

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| बिहार में शराबबंदी को लेकर हुई उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक के बाद बिहार पुलिस अब दुल्हन के कमरे और बाथरूम तक की जांच कर रही है. बात पटना पुलिस (Patna Police) की है जो इसका गलत फायदा उठाती नजर आ रही है. 

दरअसल पुलिस एक शादी समारोह (Marriage Hall In Patna) में शराब ढूंढती (Search of Liquor) हुई पहुंची. इस दौरान महिला पुलिसकर्मी (Without Female Constable) के बिना ही पुलिस ने एक-एक कमरे की तलाशी ली. हद तो तब हो गई जब महिलाओं के कमरे में भी पुलिस बेधड़क घुस गई.

नीतीश कुमार भी नहीं होंगे खुश

शादी समारोह, जहां रात के समय में बड़ी संख्या में महिलाएं मौजूद होती हैं, बिना महिला पुलिसकर्मी शराब की इस तरह से ली गई तलाशी से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी खुश नहीं होंगे.

पटना की पुलिस शराब पकड़ने को लेकर इस तरह से बौखला गई है कि महिलाओं के कमरे की तलाशी ली रही है, वो भी बिना महिला पुलिस कर्मी के. यहां तक की दुल्हन के कमरे को भी नहीं छोड़ा जा रहा है. पटना के रामकृष्णा नगर थाना क्षेत्र (Ramkrishna Nagar PS Patna) के एक बैंक्वेट हॉल में पुलिस टीम पहुंची थी.

हद तो तब हो गई जब जांच करते करते पुलिसवाले दुल्हन के कमरे में भी घुस गए और वहां भी तलाशी शुरू कर दी. इस दौरान कई सारे कीमती गहने सहित सारे सामान कमरे में बिखरे पड़े थे और कमरे में दूसरी महिलाएं भी मौजूद थीं. राम कृष्णा नगर थाना प्रभारी जहांगीर खान (Jahangir Khan) के नेतृत्व में इस पूरे कार्रवाई को अंजाम दिया गया.

यह भी पढ़ें | बहुप्रतीक्षित फ़िल्म “दंडनायक” का फर्स्ट लुक रिविल्ड

चौंकानेवाली बात यह कि महिलाओं के कमरे की तलाशी ली जाती रही, लेकिन साथ में कोई महिला पुलिसकर्मी नजर नहीं आ रही थी. जब तक पुलिसवाले वहां मौजूद रहे, तब तक वर-वधू दोनों पक्ष के लोगों में टेंशन साफ देखी जा रही थी.

छापेमारी में कुछ भी नहीं लगा हाथ

इस बावत एक वायरल हुए वीडियो में देखा जा सकता है कि किस तरह पुलिसकर्मी बिना महिला पुलिस के ही नई नवेली दुल्हन के कमरे में घुस कर तलाशी ले रहे थे. शादी समारोह में आये लोग दंग हो गए. लेकिन पुलिस वाले एक एक कर हर कमरे की तलाशी लेने लगे. हालांकि पुलिस को इस छापेमारी में कुछ भी हाथ नहीं लगा.

इधर, आरजेडी नेता व राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने पटना पुलिस की इस करतूत पर गहरी नाराजगी दिखाई है. उन्होंने वीडियो शेयर कर कहा कि बिहार पुलिस, शराब माफिया और सरकार के गठजोड़ से ये खुद शराब मंगवाते, बेचते और बिकवाते हैं. उन पर कार्रवाई ना करने की बजाय आम नागरिकों को परेशान करना, उनकी निजता का उल्लंघन कर उनके निजी जीवन में अतिक्रमण करना कौन सा कानून है? मुख्यमंत्री जवाब दें.

राबड़ी देवी ने कहा, “बिहार पुलिस शराबबंदी के नाम पर बिना महिला पुलिसकर्मियों के दुल्हन के कमरों और कपड़ों की तलाशी ले रही है. यह निजता के अधिकार का उल्लंघन है. बिहार में शराब कैसे व क्यों पहुंच रही है? कौन पहुंचा रहा है? उसकी जांच और खोजबीन नहीं, लेकिन उल्टा सनकी सरकार महिलाओं को ही परेशान कर रही है?”

राबड़ी देवी ने ट्वीट कर कहा, “अब लोग शादी करें या तानाशाह की सनक मिटाए. बिहार पुलिस, शराब माफिया और सरकार के गठजोड़ से ये खुद शराब मँगवाते, बेचते और बिकवाते है. उस पर कारवाई ना करने की बजाय आम नागरिकों को परेशान करना, उनकी निजता का उल्लंघन कर उनके निजी जीवन में अतिक्रमण करना कौन सा क़ानून है? CM जवाब दें.”