भारत में शुरू हुआ कोरोना वायरस का कम्‍युनिटी ट्रांसमिशन,आईएमए की चेतावनी

नई दिल्ली/पटना ( TBN – The Bihar Now डेस्क) | इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) ने रविवार को कहा कि देश में घातक COVID-19 वायरस की स्थिति ‘बहुत खराब’ है तथा इसका कम्यूनिटी ट्रांसमिशन (Community Transmission) शुरू हो गया है. आईएमए ने कहा है कि अब देश ने हर दिन कोरोना संक्रमण के पाज़िटिव मामलों की संख्या लगभग 30,000 से अधिक बढ़ रही है जो कि एक घातीय वृद्धि है.

आईएमए हॉस्पिटल बोर्ड ऑफ इंडिया के अध्यक्ष डॉ वी के मोंगा ने कहा कि वास्तव में देश के लिए यह एक बुरी स्थिति है. इसके साथ बहुत सारे कारण जुड़े हुए हैं लेकिन कुल मिलाकर यह अब यह ग्रामीण क्षेत्रों में फैल रहा है जो कि यह एक बुरा संकेत है. यह अब एक सामुदायिक फैलाव अर्थात कम्यूनिटी स्प्रेड को दर्शाता है. उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी अब कस्बों और गांवों तक फैल रही है जहां इसको नियंत्रित करना बहुत मुश्किल होगा. उन्होंने कहा, हम इसे दिल्ली में रोकने में सक्षम थे, लेकिन यह महाराष्ट्र, केरल, गोवा, मध्य प्रदेश जैसे राज्यों के सुदूर गांवों और कस्बों में कैसे संभव होगा, जहां नए हॉटस्पॉट बन सकते हैं? डॉक्‍टर मोंगा ने कहा राज्य सरकारों को पूरी सावधानी बरतनी चाहिए तथा स्थिति को नियंत्रित करने के लिए केंद्र सरकार की पूरी मदद लेनी चाहिए.

उन्होंने आगे कहा कि तेजी से बढ़ते कोरोना वायरस के संक्रमण को दो तरीकों से रोक जा सकता है – पहला तरीका यह कि देश की 70% आबादी इस महामारी के गिरफ्त में आ जाए ताकि लोगों में इम्यूनिटी यानि प्रतिरक्षा (Herd Immunity) खुद ही विकसित हो जाए, तथा दूसरा तरीका है बाजार में इस वायरस की दवा आ जाए.

मोंगा ने कहा कि वैक्सीन के बाजार में आने के पहले इसका परीक्षण कई चरणों में होना है; फिर इसका मानव परीक्षण, फिर इसका प्रभाव और दुष्प्रभाव. इसके अलावा, यह भी देखना होगा कि वैक्सीन देने के बाद कितने समय तक लोगों में इम्यूनिटी रहेगी क्योंकि आज की स्थिति में वैक्सीन देने के बाद अधिकांश मरोजों में रोग प्रतिरोधक क्षमता तीन महीने से ज्यादा नहीं रह पा रही है.

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का इनकार

इधर केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने देश में कोविड -19 संक्रमण के सामुदायिक प्रसारण (Community Transmission) से इनकार किया है. यह सरकारी दावा झूठा लग रहा है क्योंकि कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित देशों में भारत तीसरे नंबर पर पहुंच चुका है. पहले नंबर पर अमेरिका है जबकि ब्राजील दूसरे नंबर पर है. कुछ दिनों पहले तक भारत चौथे स्‍थान पर था और रुस तीसरे पर, लेकिन पिछले दिनों भारत में कोविड-19 के मामले बेतहाशा बढ़ने के बाद भारत तीसरे नंबर पर पहुंच चुका है.

पिछले 24 घंटे में एक दिन में सबसे अधिक मामले

बता दें कि पूरे देश में पिछले 24 घंटों के दौरान एक दिन में सबसे अधिक 38902 मामले सामने आए हैं. इन ताज़ा मामलों के साथ, भारत के कोरोनावायरस के मामले 10,77,618 हो गए हैं, जिनमें से देश में 3,73,379 सक्रिय मामले हैं और 6,77,423 मामले ठीक हो गए हैं. देश भर में अब तक COVID-19 के कारण 26,816 मौतें हुई हैं.

जानें, क्या है कम्युनिटी ट्रांसमिशन

किसी भी महामारी में कम्युनिटी ट्रांसमिशन तब होता है जब कोई व्यक्ति बिना किसी ज्ञात संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए या उस वायरस से संक्रमित देश की यात्रा किए बिना ही इसका शिकार हो जाता है. भारत सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा पिछले दो सप्ताहों में आयोजित सभी प्रेस कोन्फ़्रेंस में इस बात पर विशेष ज़ोर दिया गया है कि भारत अभी महामारी के तीसरे चरण अर्थात कम्युनिटी ट्रांसमिशन में नहीं पहुंचा है. अंतिम और चौथा चरण तब होता है, जब संक्रमण स्थानीय स्तर पर महामारी का रूप ले लेता हैं.